चूजे पर साइकिल चढ़ी तो इलाज के लिए 10 रुपये लेकर अस्पताल पहुंच गया बच्चा

2019-04-04T17:01:02Z

मिजोरम का एक 6 साल का बच्चा इस समय काफी चर्चा में है। सोशल मीडिया पर मासूम डेरेक लालचनहिमा की एक तस्वीर काफी वायरल हो रही है। चूजे की जान बचाने के लिए उसने जो कदम उठाया उसे जानकर हर कोई हैरान हो रहा है।

कानपुर। मिजोरम से साईरंग में रहने वाला 6 वर्षीय डेरेक लालचनहिमा अचानक से चर्चा में आ गया है। सोशल मीडिया पर भी उसकी लोग खूब तारीफ कर रहे हैं। Sanga Says पर नाम के फेसबुक पेज ने बच्चे डेरेक लालचनहिमाकी तस्वीर को शेयर की है। इसमें बच्चे के एक हाथ में 10 रुपये और एक हाथ में चूजा है।

घर के पास साइकिल चला रहा था

Sanga Says के मुताबिक डेरेक लालचनहिमा मस्ती से घर के पास साइकिल चला रहा था। इस दाैरान उसकी साइकिल के सामने मुर्गी का चूजा आ गया। डेरेक लालचनहिमा ने संभालते हुए चूजे को बचाने की कोशिश की लेकिन साइकिल का पहिया उस पर चढ़ गया। उसे नहीं पता था कि वह चूजा मर चुका है।

खुद ही उसे लेकर अस्पताल पहुंचा

ऐसे में वह तुरंत चूजे को उठाकर घर गया और पिता से कहा कि वह उसे लेकर अस्पताल चले। पिता ने उसे समझाया और साथ जाने से मना किया तो वह अकेले ही उसे लेकर अस्पताल पहुंच गया। उस वक्त उसके पास सिर्फ 10 रुपये थे। इस तरह अस्पताल पहुंचे डेरेक लालचनहिमा को देख वहां माैजूद लोग हैरान थे।
न कॉपी न किताबें, नए सत्र में होगी सिर्फ बातें

BSNL के 54,000 कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, नहीं जाएगी नाैकरी

चूजे के इलाज की गुजारिश कर रहा था
वह अस्पताल स्टाॅफ से चूजे के इलाज की गुजारिश कर रहा था। तभी एक नर्स ने मासूम से डेरेक की तस्वीर क्लिक कर ली। खास बात तो यह है कि डेरेक दोबारा घर आया और चूजे के इलाज के लिए 100 रुपये लेकर फिर गया। क्यूट से डेरेक की सोशल मीडिया वायरल तस्वीर को देखकर लोग उसकी तारीफ कर रहे हैं।

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.