स्ट्राइक ठीक 'रोजी' भी तो है

2018-07-27T06:00:03Z

अनाज और सब्जी मंडी में पहुंचा माल, व्यापारियों के खिले चेहरे

ALLAHABAD: रोजी-रोटी के संकट और लगातार बारिश से सब्जियां व फल खराब होने की संभावना ने ट्रांसपोर्टर्स की हड़ताल को कमजोर कर दिया है। इसी के चलते अनाज और सब्जियों की सप्लाई बढ़नी शुरू हो गयी है। लोकल ट्रांसपोर्टर भी माल पहुंचाने लगे हैं। इससे स्ट्राइक से महंगाई पर आने वाला असर भी कमजोर हो गया है। ट्रांसपोर्ट यूनियन इसे अकेजनल मामला बताकर पल्ला झाड़ रहे हैं।

बढ़े रेट के साथ जारी सप्लाई

मुट्ठीगंज अनाज मंडी के व्यापारियों का कहना है कि ट्रांसपोर्टर्स की हड़ताल से दाल, चीनी, चावल, आटा, मैदा की आवक पर असर नही है। गाड़ी मालिक माल की सप्लाई कर रहे हैं। उन्होंने 5 से 10 रुपए भाड़ा बढ़ा दिया है। माल की आवक बनी रहने से बाजार पर महंगाई का असर दिख नही रहा है। हालांकि, फुटकर बाजार को जरूर हड़ताल से फर्क जरूर पड़ा है। उम्मीद की जा रही थी कि दिल्ली की आजादपुर मंडी के आहवान पर इलाहाबाद में सब्जी की सप्लाई ठप हो जाएगी। लेकिन, ऐसा नही हुआ।

31

गाडि़यों से गुरुवार को कुल सब्जी की सप्लाई हुई

05

ट्रक टमाटर पहुंचा इलाहाबाद की मंडी

10

ट्रक आलू की आवक दर्ज की गयी

11

ट्रक कद्दू, 3 गाड़ी खीरा भी पहुंचा

03

ट्रक आगरा और मैनपुरी से आया बैंगन

02

ट्रक भुसावल व बिहार का केला आया

01

ट्रक सेब की सप्लाई पहुंची मंडी

मंडी में खूब सब्जियां की आवक हो रही है। कही कोई कमी नही है। ऐसी ही आवक रही तो सब्जियों के दाम में जरा भी महंगाई नजर नही आएगी।

सतीश कुशवाहा,

अध्यक्ष, फल सब्जी व्यापार मंडल मुंडेरा

चार गाडि़यां केले की आनी थी लेकिन दो ही आई हैं। सेब भी काफी कम आया है। हड़ताल की वजह से फल की आवक में कमी आई है।

बच्चा यादव,

महामंत्री, फल सब्जी व्यापार मंडल मुंडेरा

वाहन मालिकों ने भाड़े में थोड़ी बढ़ोतरी कर दी है लेकिन माल लगातार आ रहा है। इससे बाजार में तेजी की संभावना कम है। फुटकर वालों को दिक्कत जरूर होगी।

सतीश केसरवानी,

अध्यक्ष, गल्ला तिलहर व्यापार मंडल

हड़ताल की वजह से आवक बंद हो गई है। जिन व्यापारियों का पहले चल चुका था वह पहुंच रहा है। हड़ताल के दौरान नया माल नही आ सकता है।

अनिल कुशवाहा,

अध्यक्ष, ट्रांसपोर्ट यूनियन इलाहाबाद


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.