पूरी होगी आस युवाओं को गल्फ कंट्री में मिलेगी जॉब

2019-05-18T10:55:20Z

संयुक्त अरब अमीरात यूएई सरकार की ओर से रांची में जल्द ही ड्राइविंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट खोला जाएगा

ranchi@inext.co.in
RANCHI : सिटी के वैसे युवा जो गल्फ कंट्री में नौकरी करने की चाह रखते हैं, उनका यह सपना अब साकार होने वाला है. क्योंकि संयुक्त अरब अमीरात यूएई सरकार की ओर से रांची में जल्द ही ड्राइविंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट खोला जाएगा. नेशनल स्किल डेवलपमेंट कॉरपोरेशन एनएसडीसी और अमीरात ड्राइविंग इंस्टीट्यूट यू और यूथ चेंबर ऑफ कॉमर्स यूएई के बीच एमओयू पर सिग्नेचर हो चुका है. जिसके तहत अमीरात की ड्राइविंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट झारखंड में परिवहन विभाग के साथ मिलकर यह इंस्टीट्यूट खोलने जा रहा है. इसकी घोषणा पिछले साल स्किल डेवलपमेंट समिट में ही किया गया था. समिट में लाखों युवाओं की नौकरी दी गई थी.

परिवहन विभाग करेगा मदद
झारखंड स्किल डेवलपमेंट मिशन के डायरेक्टर रवि रंजन ने बताया कि यूएई के साथ भारत सरकार के हुए इस समझौते के बाद रांची में जल्द ही इस ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट के खुलने का रास्ता साफ हो गया है. यहां इस इंटीट्यूट के लिए परिवहन विभाग जमीन उपलब्ध करायेगा. इस ट्रेनिंग में रांची के शामिल होने वाले युवा बाद में संयुक्त अरब अमीरात में ड्राइविंग करना चाहेंगे तो वो कर सकेंगे.

एक टेस्ट देना होगा आबूधाबी में
संयुक्त अरब अमीरात में जो भी युवा ड्राइविंग करते हैं उनको 11 अलग-अलग मॉड्यूल का ट्रेनिंग लेना अनिवार्य होता है. रांची में भी यहां के लोगों को दस तरह की ट्रेनिंग दी जाएगी. यहां ट्रेनिंग लेने वाले युवाओं को 10 तरह की मैनुअल और प्रैक्टिकल ट्रेनिंग दी जाएगी. एक ट्रेनिंग आबूधाबी में जा कर देना होगा, उसके बाद उनका रजिस्ट्रेशन होगा और उनको लाइसेंस मिल जाएगा.

गल्फ कंट्री में बाएं साइड है सीट
रांची सहित झारखंड से हजारों युवा गल्फ कंट्री में नौकरी करने के लिए जाते हैं. लेकिन इन युवाओं के पास कोई स्किल नहीं होने के कारण उनको नौकरी नहीं मिल पाती है. ड्राइविंग स्किल नहीं होने के कारण वहां गाड़ी नहीं चला पाते हैं. क्योंकि गल्फ कंट्री में ड्राइविंग सीट बांयी तरफ होती है. वहां जाकर युवाओं को ड्राइविंग के लिए ट्रेनिंग लेना भी महंगा होता है, अब यहां के युवाओं के लिए यह बेहतर अपॉर्चुनिटी मिली है कि वह यहां ट्रेनिंग लेंगे और यहां से एक्सपर्ट होकर गल्फ कंट्री में जाकर ड्राइविंग करेंगे, यहां से उनको जो सर्टिफिकेट मिलेगा उसके आधार पर उनको आसानी से नौकरी मिल जाएगी.

50 हजार को जॉब की जरूरत
संयुक्त अरब अमीरात में 2020 में इंटरनेशनल एक्सपो होगा. इस एक्सपो के लिए वहां करीब 50, 000 ड्राइवरों की जरूरत है. यहां से ट्रेनिंग लेकर जाने वाले लोगों को वहां ड्राइविंग की नौकरी तत्काल मिल जाएगी.

संयुक्त अरब अमीरात की ओर से रांची में ड्राइविंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट खुल जाने के बाद यहां के युवाओं में स्किल डेवलप किया जाएगा. गल्फ कंट्री में बहुत सारे युवा नौकरी के लिए जाते हैं, यहां से ट्रेनिंग लेने के बाद उनको नौकरी मिल जाएगाी.
- रवि रंजन, मिशन डायरेक्टर, झारखंड स्किल डेवलपमेंट मिशन सोसायटी


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.