अमेरिका से 24 एमएच60आर सीहॉक हेलिकॉप्टर खरीदेगा भारत समुद्र में चीन की उड़ जाएगी नींद

2019-04-03T13:57:18Z

अमेरिका ने भारत को 24 एमएच60आर सीहॉक हेलिकॉप्टर बेचने का फैसला किया है। इससे भारतीय नौसेना की ताकत काफी बढ़ जाएगी।

वाशिंगटन (पीटीआई)। अमेरिका ने भारत को 24 एमएच-60आर सीहॉक हेलिकॉप्टरों को बेचे जाने की मंजूरी दी है। अमेरिकी विदेश विभाग ने बताया कि भारत को यह हेलिकॉप्टर 2.6 बिलियन डॉलर (करीब 16 हजार करोड़ रुपए) में बेचे जाएंगे। ये हेलिकोप्टर भारतीय नौसेना की ताकत बढ़ाएंगे और यह मल्टी-रोल एमएच-60 सीहॉक हेलिकॉप्टर दुश्मनों की पनडुब्बियों को नष्ट करने और समुद्र में जहाजों को खदेड़ने में सक्षम होंगे। इसके साथ यह समुद्र में सर्च-बचाव अभियान के लिए भी महत्वपूर्ण साबित होंगे। बता दें कि चीन हिंद महासागर में अपनी ताकत बढ़ा रहा है, ऐसे में अमेरिका की तरफ से यह फैसला बेहद अहम माना जा रहा है। चीन के पनडुब्बियों का यह जमकर मुकाबला कर सकते हैं। भारतीय नौसेना में इस हेलिकॉप्टर के शामिल होने के बाद चीन की नींदे उड़ जाएंगी।
अमेरिका और भारत के संबंध होंगे मजबूत
ट्रंप प्रशासन ने मंगलवार को अमेरिकी संसद को सूचित किया कि उसने 24 एमएच -60 आर मल्टी-मिशन हेलिकाप्टरों की बिक्री को मंजूरी दे दी है, जो भारतीय रक्षा बलों की एंटी-सरफेस और पनड़ुब्बी रोधी मिशन में अभूतपूर्व क्षमता की वृद्धि करेगा। इस हेलिकॉप्टर को फ्रिगेट, डेस्ट्रॉयर, क्रूजर और एयरक्राफ्ट कैरियर से संचालित करने के लिए डिजाइन किया गया है। अपनी अधिसूचना में, विदेश विभाग ने संसद को बताया कि यह प्रस्तावित बिक्री अमेरिका-भारतीय रणनीतिक संबंधों को मजबूत करने में मदद करेगी और साथ ही अमेरिका की विदेश नीति और राष्ट्रीय सुरक्षा का भी समर्थन करेगी। इसके बाद आगे यह भी कहा गया कि इस बिक्री से भारत प्रशांत और दक्षिण एशियाई क्षेत्र में राजनीतिक स्थिरता, शांति और आर्थिक प्रगति के लिए एक महत्वपूर्ण शक्ति बनेगा।
हेलिकॉप्टर को सेना में शामिल करने में नहीं होगी कोई कठिनाई
अधिसूचना में कहा गया है कि भारत इन हेलिकॉप्टरों का उपयोग अपनी क्षेत्र की रक्षा के लिए करेगा और भारत को इन हेलिकाप्टरों को अपनी सेना में शामिल करने में कोई कठिनाई नहीं होगी। कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि हिंद महासागर क्षेत्र में चीन के आक्रामक व्यवहार को देखते हुए इस समय एमएच -60 आर की बहुत आवश्यकता है। बता दें कि एमएच-60आर को दुनिया का सबसे बेहतरीन समुद्री हेलिकॉप्टर माना जाता है। इस समय यह अमेरिकी नेवी में एंटी-सबमरीन और एंटी-सरफेस वेपन के रूप में तैनात हैं।

फेमस अमेरिकी रैपर निप्सी हसल की गोली मारकर हत्या, आरोपी की तलाश में जुटी में पुलिस

सऊदी पत्रकार खाशोग्गी को मारने वालों ने अमेरिका में ली थी ट्रेनिंग, रिपोर्ट का दावा

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.