कस्टमर्स की ऑन डिमांड पर रूस, दुबई से आती थीं लड़कियां

Updated Date: Sat, 25 Jul 2020 10:30 AM (IST)

देह व्यापार की सरगना रोशनी से शुक्रवार को भी हुई पूछताछ

लोकल एजेंट्स की तलाश में पुलिस ने कई जगह दी दबिश

आगरा। रिमांड पर ली गई देह व्यापार की सरगना रोशनी से पुलिस पूछताछ में कई अहम खुलासे हो रहे हैं। शुक्रवार को पूछताछ में पता चला कि रोशनी का नेटवर्क इंडिया से बाहर कई देशों में फैला है। कस्टमर की ऑन डिमांड पर दुबई और रूस जैसे देशों से युवतियों को टूरिस्ट वीजा पर ताजनगरी बुलाया जाता था। शहर से लेकर विदेशों तक देह व्यापार में शामिल एजेंट्स इस काम को अंजाम देते थे। पूछताछ में कई होटल स्वामी और एजेंट के नाम सामने आए हैं। सरगना रोशनी की निशानदेही पर शुक्रवार को पुलिस ने कई जगह दबिश भी दी। हालांकि पुलिस को कोई सफलता नहीं मिली।

महिला थाने में चली पांच घंटे पूछताछ

देह व्यापार की सरगना रोशनी को आठ जुलाई को फतेहाबाद रोड से होटल संचालक राहुल मिश्रा के साथ अरेस्ट किया गया था। न्यायालय के आदेश पर उससे 48 घंटे की रिमांड पर पुलिस पूछताछ कर रही है। पूछताछ के दूसरे दिन शुक्रवार को महिला थाने में पुलिस टीम ने सीओ मोहसिन खान के नेतृत्व में करीब पांच घंटे तक सरगना से पूछताछ की। इस दौरान स्थानीय ठिकानों पर पुलिस ने सरगना की निशानदेही पर दबिश भी दी। पूछताछ में सरगना ने दिल्ली और विदेशों में एजेंट होने की बात भी कही है। पुलिस बताए गई जानकारी के अनुसार ऐसे लोगों की तलाश कर रही है, जो देह व्यापार के कारोबार में सरगना के साथ मिल काम को अंजाम देते थे।

शहर में एजेंट चलाते थे नेटवर्क

देह व्यापार की सरगना से पूछताछ में पुलिस को अहम सुराग मिले हैं। पुलिस ने सरगना से मिली जानकारी पर कार्य करना शुरू कर दिया है। कार्रवाई प्रभावित होने के चलते ऐसे नामों को अभी सार्वजनिक नहीं किया गया है। सूत्रों का कहना है कि शहर के कई बड़े लोगों से उसके एजेंट संपर्क में थे। वह उनके फार्म हाउस पर ऑन डिमांड युवतियों को बुलाते थे। इस बीच सरगना से केवल फोन पर ही संपर्क रहता था। इस तरह से कोई जानता भी नहीं था कि सरगना कौन है। यहां तक की ऑन डिमांड आने वाली युवतियों को भी इसकी जानकारी नहीं होती थी। शहर के ताजगंज और डौकी में एजेंट्स का नेटवर्क सक्रिय है।

विदेशों से बुलाई जाती थीं युवतियां

शहर के कई होटलों में सरगना के एजेंट सक्रिय रहते हैं। वह होटलों में आने वाले देशी-विदेश कस्टमर्स के लिए ऑन डिमांड विदेशों से टूरिस्ट वीजा पर युवतियों को बुलाते थे। यहां से डील पूरी होने के बाद युवतियों को वापस उनके देश छोड़ने की जिम्मेदारी भी एजेंट की ही होती थी। इसके एवज में एजेंट को कमीशन मिलता था। इसके साथ ही अलग से कस्टमर्स को सुरक्षा का पूरा भरोसा दिया जाता था, जिससे किसी तरह की कोई समस्या खड़ी न हो। रूस, दुबई और उज्बेकिस्तान सहित दिल्ली से युवतियों को बुलाया जाता था।

एजेंट हर जानकारी देते थे सरगना को

सूत्रों का कहना है कि डील पूरी होने के बाद कुछ एजेंट जो सरगना के भरोसे के थे, वह डायरेक्ट पेमेंट ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से पेमेंट लेते थे। इस दौरान एक-एक मिनट की जानकारी एजेंट की ओर से सरगना को दी जाती थी। काम होने के बाद शहर के सक्रिय एजेंट अन्य राज्यों के एजेंट को इसकी जानकारी देते थे। पुलिस पूछताछ में दिल्ली और विदेशों में फैले नेटवर्क की जानकारी कर रही है। टीम में सीओ ताज सुरक्षा और इंस्पेक्टर तांजगंज सहित अन्य इस मामले की जांच कर रहे हैं।

देह व्यापार की सरगना से पूछताछ की जा रही है। पुलिस हर एक बिंदुओं पर मामले की जांच कर रही है। सरगना की निशानदेही पर लगातार कार्रवाई भी की जा रही है। लोकलस्तर पर एजेंट और इस कारोबार में लिप्त लोगों के बारे में जानकारी हासिल की जा रही है।

मोहसिन खान, सीओ ताजसुरक्षा

सरगना का नेटवर्क

-रूस

-दुबई

-उज्बेकिस्तान

-दिल्ली

-आगरा

पूछे गए कुछ सवाल

होटलों में डील का तरीका

पेमेंट का प्रोसेस

सक्रिय एजेंट्स के नाम

सहयोग करने वालों के नाम

सिकंदरा का आशु प्रकरण

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.