बार्डर और 5 थानों की सीमा पारकर आगरा पहुंच रही जहरीली शराब

Updated Date: Tue, 24 Nov 2020 03:02 PM (IST)

-चंबल के बीहड़ में खुलेआम बन रही अवैध शराब की हो रही यूपी में तस्करी

-बसई में हो रही बिक्री, एक-दो नहीं कई घराें से होती है खुलेआम बिक्री

-दस रुपये का मिलता है एक पाउच, सुबह से शाम तक लगती है लाइन

आगरा: चंबल के बीहड़ और धौलपुर के जंगलों में खुलेआम छन नहीं अवैध जहरीली शराब यूपी-राजस्थान बार्डर और जनपद के 5 थानाक्षेत्रों की सीमा को पार कर आगरा पहुंच रही है। ताजगंज थानाक्षेत्र के बसई में पकड़ी गई अवैध शराब को ठिकाने तक लाने के लिए शराब तस्कर 20 नाकों और चौकियों को पार कर रहे हैं। बार्डर पार से हो रही तस्करी की रोक के लिए सतर्कता का आलम यह है कि सालों से अवैध शराब का ठिकाना बने बसई इलाके में एक-दो नहीं कई घरों में खुलेआम अवैध जहरीली शराब की बिक्री हो रही है। पुलिस और आबकारी विभाग अब तक शराब तस्करी पर मौन थी, वहीं रविवार को हुई छापेमारी में महज दो घरों में ही 500 लीटर शराब बरामद हो गई। जबकि दावों के मुताबिक इसी बसई इलाके में अभी भी घरों में खुलेआम शराब की बिक्री हो रही है।

मिलीभगत से चल रहा खेल

आगरा की सीमा मध्यप्रदेश और राजस्थान दो राज्यों से सटी है। ताजगंज के बसई में पकड़ी गई अवैध जहरीली शराब के तस्करों ने पुलिस को बताया कि वे धौलपुर से यह शराब लाकर आगरा में बेंच रहे हैं। तस्करों से खुलासे से स्पष्ट है कि बिना पुलिस और आबकारी विभाग की मिलीभगत के यह शराब आगरा तक नहीं पहुंच सकती। आगरा से सटे राजस्थान बार्डर के जनपद धौलपुर से यह शराब को यूपी-राजस्थान बार्डर क्रॉस करके एंट्री कराया जाता है। यहां बार्डर पर विभिन्न खुफिया एजेंसियों के साथ जीएटी विभाग की टीमें भी मुस्तैद रहती हैं। ऐसे में बिना मिलीभगत के आखिर कैसे दूसरे राज्य से बार्डर पार कर आगरा तक अवैध शराब को लाया जा सकता है? हालांकि पूर्व में भी कई बार छापेमारी कर छिटपुट धरपकड़ हुई। और इस बार भी गुडवर्क के फेर में पुलिस महज दो घरों में छापेमारी कर कार्रवाई को पूरा मान रही है।

क्या कर रही है 5 थानों की पुलिस?

तफ्तीश में निकलकर आया कि धौलपुर बार्डर से ताजगंज के बसई तक 5 थानों की सीमा को पार कर तस्कर अवैध शराब को ठिकानों तक पहुंचा रहे हैं। आगरा-मुंबई हाइवे पर राजस्थान बार्डर से सटा जनपद का पहला थाना सैंया पड़ता है। यहां की तेहरा और ककुआ पुलिस चौकी पर नाके लगाकर बार्डर पार कर रहे वाहनों की चेकिंग भी जा रही है किंतु यहां भी तस्कर आसानी से बार्डर पार कर रहे हैं। दूसरा थाना इरादतनगर है जबकि हाइवे पर तीसरा थाना मलपुरा पकड़ा है। शहर सीमा में सदर और ताजगंज दो थानाक्षेत्रों की पुलिस की आंखों में धूल झोंक कर तस्कर बसई बस्ती तक अवैध शराब को ठिकानों तक पहुंचा रहे हैं। 5 थानों और करीब 20 पुलिस चौकियां पर तैनात पुलिस काले कारनामे पर अंकुश लगाने में नाकाम हैं। वहीं चर्चा है कि जनपद में बार्डर से सटे सैंया थाने में तैनाती के लिए पुलिसकर्मियों को बड़ी जुगत लगानी होती है।

10 रुपए है पाउच की कीमत

सफेद पाउच में पैक अवैध कच्ची शराब की कीमत 10 रुपए है। बसई बस्ती में यह शराब आसानी से घरों के बाहर मिल रही है। रविवार को कार्रवाई के बाद पकड़े गए आरोपियों ने पुलिस को बताया कि धौलपुर में कच्ची शराब तैयार होती है। वहीं से पै¨कग के बाद यहां सप्लाई दी जाती है। 10 रुपए प्रति पाउच के हिसाब से इसे बेचा जाता है। देसी शराब के पौवे से भी यह पाउच सस्ता है। इसलिए इसे तमाम लोग खरीदते हैं। बस्ती के करीब छह-सात घरों में इसी तरह कच्ची शराब बेची जाती है। हालांकि पुलिस ने अभी तक सिर्फ 2 घरों में ही छापेमारी कर शराब को 500 लीटर का स्टॉक बरामद किया है। ताजगंज क्षेत्र के बसई में कच्ची शराब के कई अड्डे हैं, इसकी कई बार पुलिस को शिकायतें मिली हैं। इसके अलावा आगरा-मुंबई हाइवे समेत अन्य हाइवे पर ढाबों पर भी अवैध शराब की धड़ल्ले से बिक्री होती है।

आरोपियों को भेजा जेल

सोमवार को पूछताछ के बाद पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर शराब तस्कर रितिक, वीना के अलावा एटा में अवागढ़ निवासी सोनू और मोहर सिंह को जेल भेज दिया है। महिला आरोपी वीना और रितिक के घर से पुलिस ने रविवार को छापेमारी अभियान दौरान पांच सौ लीटर अवैध शराब बरामद की थी। तस्करों ने दीवारों और फर्श में शराब को दबाकर रखा था। दीवार ठोंककर देखी तो मामला खुल गया। इनके बीच में छोड़े गए खाली स्थान में शराब के पाउच भरे हुए थे। पुलिस ने दीवार और फर्श तोड़कर कच्ची शराब के पाउच निकाले और उन्हें जब्त कर लिया। यह कार्रवाई सीओ सदर महेश कुमार के नेतृत्व में हुई थी।

---

एक ठेके पर मिली नकली शराब

वहीं, दूसरी ओर प्रदेश सरकार के नेतृत्व में चलाए गए अभियान के दौरान आबकारी विभाग ने छापेमार कार्रवाई कर एक ठेके में नकली शराब की बिक्री को पकड़ा है। कलाल खेरिया में स्थित इस देशी शराब के ठेके पर बड़ी मात्रा में नकली शराब की बिक्री को पकड़ा। जिला आबकारी अधिकारी नीलेश पारिया के निर्देशन में अभियान का संचालन किया जा रहा है। शराब ठेके के निलंबन की कार्रवाई आबकारी विभाग द्वारा की जा रही है।

---

अवैध शराब के खिलाफ प्रदेश सरकार के आदेश पर अभियान चल रहा है। बसई में पकड़ी गई अवैध शराब के मामले में पुलिस कार्रवाई कर रही है। एक ठेके पर विभाग को नकली शराब की बिक्री पकड़ में आई थी, उसके निलंबन की कार्रवाई चल रही है।

-नीलेश पारिया, जिला आबकारी अधिकारी, आगरा

---

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.