'कुंभ में आधी आबादी का रखें पूरा ख्याल'

Updated Date: Mon, 02 Jul 2018 06:00 AM (IST)

पुलिस लाइंस में हुए आओ सहेली कार्यक्रम में शहर की महिलाओं ने दिए सुझाव

ALLAHABAD: कुंभ को लेकर आधी आबादी में जबर्दस्त उत्साह है। पुलिस लाइन सभागार में रविवार को 'आओ सहेली' कार्यक्रम में महिलाओं ने ने कहा कि वह चाहती हैं कि मेले में आने वाली लाखों-करोड़ों महिलाओं को उनका हक मिले। दो घंटे से अधिक देर तक चले इस कार्यक्रम की शुरुआत आइजी रमित शर्मा, एसएसपी नितिन तिवारी द्वारा महिलाओं के परिचय प्राप्त के बाद शुरू हुआ।

यह मिले सुझाव

-पॉलीथिन के इस्तेमाल पर पूरी तरह से रोक लगे।

-बस स्टेशन व रेलवे स्टेशन के आस पास आईडी सेंटर खोला जाए।

-घाटों पर महिलाओं के स्नान के वक्त फोटोग्राफी पर रोक हो।

-बच्चों को दूध पिलाने के लिए एक अलग से कैम्प की व्यवस्था

-मोबाइल टॉयलेट या फिर अन्य स्थानों पर साफ सफाई समय-समय पर हो।

-महिलाओं के लिए सैनेट्री पैड के लिए मशीन की व्यवस्था।

-मेला क्षेत्र में जगह जगह योग प्रशिक्षण का कैम्प हो।

-मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को मुफ्त में दवा वितरण।

-पूरे मेला क्षेत्र को नशामुक्त रखा जाए

इन लोगों ने लिया हिस्सा

कार्यक्रम आईजी रमित शर्मा के निर्देशन और अपर नगर आयुक्त रितु सुहास की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम में सहायता मिश्र मंडली, स्वदेशी जागरण मंच, परमार्थ सेवा, लायंस क्लब की मेंबर्स, पार्षद, सोशल वर्कर, डॉक्टर, एनजीओ, डिग्री कॉलेज की प्रिंसिपल, शिक्षक, कलाकार समेत तमाम महिलाओं ने कार्यक्रम में हिस्सा लिया। कार्यक्रम कोऑर्डिटेनर सीओ गीतांजली सिंह व संचालन रंजना त्रिपाठी ने किया। इस मौके पर एएसपी मेला नीरज त्रिपाठी और आईपीएस सुकीर्ति माधव भी मौजूद रहे।

प्रोग्राम में महिलाओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया और खूब सुझाव भी दिए। मेले के दौरान पिंक सेंटर जगह जगह खोला जाएगा। इसमें महिला संबंधी समस्याओं को दूर करने की पूरी व्यवस्था होगी। शहर की महिलाओं से अपील है कि अगर वह कोई सुझाव देना चाहती हैं तो मेरे कार्यालय में आकर मिल सकती हैं।

-गीतांजली सिंह, सीओ

महाकुंभ हम सबके लिए खास है। हम शहरवासियों को मिलकर इसे सफल बनाना होगा। मेला क्षेत्र में ग्रामीण महिलाओं के लिए जगह-जगह एक आइडी सेंटर खोला जाए। यहां से उन्हें आइडी बनाकर दी जाए ताकि वह मेले में न भटकें।

-रागिनी चंदेल

आओ सहेली कार्यक्रम में शामिल होकर काफी अच्छा लगा। यह पहली बार हो रहा है जब पुलिस विभाग हम महिलाओं से सुझाव ले रहा है। मैंने भी इस कार्यक्रम के जरिए कई सुझाव शेयर किए।

-डॉ। उर्मिला श्रीवास्तव, प्राचार्या

महाकुंभ को सफल बनाना हम सब के लिए चैलेंज है। वो चाहे सुझाव के माध्यम से हो या फिर स्वयं इसमें शामिल होकर, मैंने भी कई सुझाव दिए हैं जो अधिकारियों को काफी पसंद आया है।

-पूजा गुप्ता

महाकुंभ में देश ही नहीं बल्कि पुरी दुनिया के लोगों की नजर है। महिलाओं के लिए स्नान घाट पर एंगिल या फाइबर फ्रेमिंग क्लॉथ चेकिंग रूम बड़ा हो, जिससे की जगह का अभाव न हो सके। स्नान घाट पर फोटो खींचना पूरी तरह से वर्जित किया जाए।

-किरन जायसवाल

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.