लखनऊ में कोरोना के 2934 मरीज, 14 की मौत

Updated Date: Sat, 10 Apr 2021 10:20 AM (IST)

- गुरुवार को राजधानी में मिले थे 2369 संक्रमित

LUCKNOW:

कोरोना की दूसरी लहर बेहद खतरनाक बन गई है। आलम यह है कि कोरोना के लगातार तेजी से बढ़ते मामलों के चलते पूरी राजधानी कराह उठी है। शुक्रवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार राजधानी में 2934 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। वहीं संक्रमण के चलते 14 मरीजों की जान भी गई है। हालांकि 185 मरीजों को कोरोना से ठीक होने के बाद अस्पतालों से डिस्चार्ज किया गया है। इस समय राजधानी में 13,478 एक्टिव कोरोना मरीज हैं।

बलरामपुर के निदेशक भी पॉजिटिव

कोरोना संक्रमण की चपेट में लगातार डॉक्टर आते जा रहे हैं। बलरामपुर के सीएमएस और एमएस के बाद अब यहां के निदेशक डॉ। राजीव लोचन भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। गुरुवार शाम उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिसके बाद उन्हें पीजीआई में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बुखार और ठंड लगने की शिकायत पर कोविड जांच कराई थी।

दस कर्मचारी संक्रमित

केजीएमयू के पोस्टमार्टम हाउस के दस कर्मचारी भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। जिसके बाद यहां पर ऑटोप्सी के लिए अब सिर्फ एक ही कर्मचारी रह गया है। ऐसे में पोस्टमार्टम का काम भी एक दिन के लिए बंद हो सकता है। सेनेटाइजेशन के बाद ही यहां फिर से काम शुरू होगा।

27 हजार से अधिक सैंपल

सर्विलांस एवं कांटेक्ट ट्रेसिंग के आधार पर शुक्रवार को विभिन्न टीमों द्वारा 27,509 लोगों के सैंपल लिए और जांच के लिए केजीएमयू भेजे। राजधानी में इस समय एक्टिव होम आइसोलेशन में 6,735 मरीज हैं।

5957 मरीजों का लिया हाल

कोविड कंट्रोल रूम से शुक्रवार को होम आइसोलेशन के 5957 मरीजों से फोन पर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली गई। हेलो डॉक्टर सेवा में 156 मरीजों ने फोन कर स्वास्थ संबंधी परामर्श लिया। हेलो डॉक्टर सेवा 0522-3515700 पर कोविड संबंधित स्वास्थ्य की जानकारी प्राप्त की जा सकती है। कोविड कमांड कंट्रोल रूम 0522-4523000 और 0522-2610145 पर भी जानकारी की जा सकती है।

बिना दवा दिए भेज दिया

पीजीआई की इमरजेंसी में कार्यरत संविदा कर्मचारी नन्हा की तबियत खराब होने पर जांच कराई तो शुक्रवार को रिपोर्ट पॉजिटिव आई। संविदा कर्मचारी यूनियन का आरोप है कि कर्मचारी की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बावजूद संस्थान के डॉक्टर द्वारा उसको कोई दवा नहीं दी गई। बल्कि घर जाकर ले लो दवा कहकर टरका दिया। जिससे कर्मचारियों में काफी रोष है। मामले को लेकर निदेशक को लेटर लिखा गया है। फिलहाल कर्मचारी घर पर होम आइसोलेट है।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.