काल बना शराब और ड्राइविंग का कॉकटेल

Updated Date: Wed, 26 Mar 2014 07:00 AM (IST)

- कठौता झील में समाई कार, दो की मौत

- सोमवार देर रात दोस्त को छोड़ने जाते समय हुआ हादसा

- ट्रक ड्राइवर की सतर्कता से बच गई एक युवक की जान

LUCKNOWÑ दोस्त मकान छोड़कर मेरठ जा रहा थाबिछड़ने से पहले शराब का दौर चला और उसके बाद कार से विदाईपर, इसके बाद जो हुआ उसे सुनकर हर कोई सिहर उठा। सोमवार देर रात नशे में धुत दोस्त ने जिद करते हुए कार की स्टियरिंग थाम ली और कार को सरपट दौड़ा दिया। पर, उनका यह सफर आखिरी सफर साबित हुआ। नशे और रफ्तार का कॉकटेल से कार अनियंत्रित होकर कठौता झील में जा समायी। इस हादसे में दो युवकों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि तीसरे युवक को ट्रक ड्राइवर की सतर्कता के चलते जिन्दा बचा लिया गया। पुलिस ने इस हादसे में मारे गए दोनों युवकों की बॉडी को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया।

मकान खाली किया था

मुजफ्फरनगर में तैनात सब इंस्पेक्टर आदेश त्यागी चिनहट एरिया स्थित सीबीसीआईडी कॉलोनी में फैमिली व साले मोहित के साथ रहते थे। उन्होंने हाल ही में मेरठ में अपना मकान बनवा लिया। सोमवार को उन्होंने अपने साले मोहित त्यागी को ट्रक पर सामान लोड कर मकान खाली करने के लिये भेजा। देर रात सामान लोड हो जाने के बाद मोहित ने शराब पी। नशे में धुत होने के बाद ट्रक पर न बैठकर पड़ोस में रहने वाले अमीनाबाद थाने में तैनात सब इंस्पेक्टर विद्यासागर के बेटे क्क्वीं के स्टूडेंट विपिन और भतीजे विनय के साथ कार से थोड़ी दूर चल पड़ा।

खुद थाम लिया स्टियरिंग

अभी कार थोड़ा ही फासला तय कर पाई थी कि मोहित ने कार ड्राइव कर रहे विनय को रुकने को कहा। विनय ने कार रोक दी। जिसके बाद मोहित ड्राइविंग की जिद करने लगा। उसकी जिद पर विनय मोहित के लिये ड्राइविंग सीट से हट गया। मोहित ने फौरन स्टियरिंग थाम ली और कार की रफ्तार बेतहाशा बढ़ा दी। अभी कार चिनहट एरिया स्थित कठौता झील के करीब पहुंची थी कि मोहित ड्राइव करते-करते पीछे मुड़कर ट्रक को देखने लगा। इसी बीच कार अनियंत्रित हो गई और झील के किनारे बने चबूतरे से जा टकराई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि इसके बाद कार हवा में उछल गई और रेलिंग को तोड़ते हुए झील में जा समायी।

ट्रक ड्राइवर ने बचाया

देर रात होने की वजह से वहां सन्नाटा पसरा था और कोई भी उनकी मदद को न आ सका। झील गहरी होने की वजह से वे तीनों कार के भीतर घुसे पानी में डूबने लगे। इसी बीच कार के पीछे सामान लोड कर आ रहा ट्रक वहां आ पहुंचा। कार को झील में डूबता देख उसने फौरन ट्रक में रखा रस्सा निकाल लिया और युवकों को बचाने के लिये उसे झील में फेंक दिया। खुशकिस्मती से विपिन के हाथ वह रस्सा लग गया और वह उसे पकड़कर बाहर निकल आया। पर, मोहित व विनय झील में ही रह गए।

खराब मौसम ने छकाया

बाहर निकले विपिन ने फौरन ड्राइवर के मोबाइल से पुलिस को घटना की इंफॉर्मेशन दी। जानकारी मिलने पर एसओ विभूतिखंड देवेंद्र कुमार दुबे, इंस्पेक्टर चिनहट वीएम यादव भारी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। इसी बीच तेज हवा के साथ बारिश होने लगी। पर, इससे बेपरवाह पुलिसकर्मियों ने रस्से से कड़ी मशक्कत कर कार को किनारे खींचने में कामयाबी हासिल की और उसमें फंसे विनय को बाहर निकालकर लोहिया हॉस्पिटल भेजा। लेकिन वहां पहुंचने पर डॉक्टर्स ने उसे डेड डिक्लेयर कर दिया। पूरी रात चले तलाशी अभियान के बाद सुबह पांच बजे पुलिस ने मोहित त्यागी की बॉडी बरामद कर ली।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.