शादी-समारोह में सिर्फ अब 100 लोगों की परमिशन

Updated Date: Mon, 23 Nov 2020 04:02 PM (IST)

अब तक प्रशासन ने जारी की थी 200 लोगों की 250 अनुमति

अब 100 लोगों की अनुमति में कनवर्ट करने के लिए आज जारी होगा आर्डर

Meerut। कोरोना से बचाव के लिए अब शादी, समारोह और आयोजनों में केवल 100 लोगों के शामिल होने की अनुमति होगी। इसके लिए आज नई गाइडलाइन आने के बाद प्रशासनिक अधिकारी आदेश भी जारी कर देंगे। वहीं प्रशासन ने ये भी स्पष्ट कर दिया है कि बीते शुक्रवार तक शादी, समारोह और आयोजनों में जिन लोगों को 200 लोगों के शामिल होने की अनुमति मिली है, उसे भी 100 लोगों की अनुमति ही समझें।

पहले 100 लोगों की परमिशन

16 अक्टूबर से पहले भी कोरोना के मामलों को लेकर 100 लोगों के कार्यक्रम करने की अनुमति प्रशासन द्वारा सरकार की गाइडलाइन के अनुसार द्वारा दी जा रही थी। वहीं कोरोना कंट्रोल होता देख 16 अक्टूबर के बाद से सरकार की गाइडलाइन के अनुसार 200 लोगों की अनुमति प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा दी जाने लगी। मगर अब जब कोरोना संक्रमण का आंकड़ा फिर से हावी होने लगा है तो सरकार की तरफ से नई गाइडलाइन जारी की गई है। जिसमे ये साफ कर दिया गया है कि अब किसी भी समारोह और आयोजन में केवल 100 लोग ही शामिल हो सकेंगे। वहीं प्रशासन ने ये भी स्पष्ट कर दिया है कि बीते शुक्रवार तक शादी, समारोह और आयोजनों में जिन लोगों को 200 लोगों के शामिल होने की अनुमति मिली है, उसे भी 100 लोगों की अनुमति ही समझें। इस बाबत आज पुरानी अनुमति का हवाला देते हुए सभी मजिस्ट्रेट और एसडीएम, डीएम के आदेश पर यह आर्डर जारी करेंगे।

पहले थी 250 की परमिशन

दरअसल, मजिस्ट्रेट ने आयोजनों और समारोह में 200 लोगों के शामिल होने वाली अनुमति शुक्रवार तक जारी की थी। ऐसे में करीब 250 अनुमति मेरठ प्रशासन द्वारा जारी हुई हैं। वहीं नई गाइडलाइन शनिवार को आने के बाद डीएम ने सभी मजिस्ट्रेट को रविवार को ये आदेश दिए है कि पुरानी सभी अनुमति निरस्त नहीं करनी है। बल्कि केवल एक आर्डर जारी करना है कि जो भी परमिशन जारी है उसको 200 की जगह 100 माना जाए।

शादी, समारोह और आयोजनों में अब केवल 100 लोग ही शामिल हो सकेंगे। जो अनुमति पहले 200 लोगों के शामिल होने की जारी हुई थी, उसको लोग अब 100 लोगों वाली परमिशन ही मानकर चलें। इस संबंध में सभी मजिस्ट्रेट और एसडीएम आज एक आर्डर जारी करेंगे।

के। बालाजी, डीएम, मेरठ

नहीं पहना मास्क तो होगा दो हजार का चालान

कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण के लिए दिल्ली की तर्ज पर अब मेरठ में भी चालान के रेट बढ़ाने की तैयारी चल रही है। एसपी ट्रैफिक जितेंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि मास्क नहीं लगाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है। एक दिसंबर से मास्क न पहनने पर जुर्माने की राशि दो हजार रुपये तक बढ़ाने की भी प्रक्रिया चल रही है। हालांकि, इसको लेकर मौखिक दिशा -निर्देश जिला प्रशासन के पास आ चुके हैं।

90 लोगों के चालान

बता दें कि अभी पांच सौ रूपये का चालान किया जा रहा है। वहीं मास्क नहीं लगाने वालों के खिलाफ ट्रैफिक पुलिस के साथ-साथ थाने की पुलिस भी लगातार चालान की कार्रवाई कर रही है।

पुलिस ने चलाया अभियान

रविवार को भी शहर के तमाम चौराहा, बच्चा पार्क, बेगमपुल, कमिश्नरी आवास चौराहा, तेजगढ़ी, मेट्रो प्लाजा पर चेकिंग हुई। जिसमें 90 लोगों के मास्क नहीं पहनने पर चालान किए गए। इसके अलावा बीस हजार रूपये का जुर्माना भी वसूला गया।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.