कोरोना मरीज वंचित न हों वोट से : कमिश्नर

Updated Date: Wed, 25 Nov 2020 05:02 PM (IST)

कमिश्नर ने की स्नातक और शिक्षक निर्वाचन के कामों की समीक्षा

पुलिस और प्रशासनिक अफसरों के साथ किया कताई मिल का निरीक्षण

स्नातक चुनाव

60235 वोटर

31 मतदान केंद्र

77 मतदेय स्थल

शिक्षक चुनाव

5465 वोटर

30 मतदान केंद्र

30 मतदेय स्थल

Meerut मेरठ खंड स्नातक और शिक्षक निर्वाचन की रिटर्निग अफसर और मेरठ मंडल की कमिश्नर अनीता सी। मेश्राम ने निर्देश दिए हैं कि आगामी चुनाव में कोरोना मरीज मतदान से वंचित न रहे, इसके लिए संबंधित जिला निर्वाचन अधिकारी व्यवस्थाएं कराएं। साथ ही, कोविड-19 गाइडलाइंस के पालन और मतदान केंद्र पर मास्क आदि की व्यवस्था के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मतदान कार्मिकों को भी अच्छी गुणवत्ता वाले मास्क, ग्लव्स आदि उपलब्ध कराए जाएं।

बैठक का आयोजन

कमिश्नर ने मंगलवार को आयुक्त सभागार में उक्त निर्वाचन के संबंध में मेरठ और बागपत के कायरें की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि निर्वाचन को निर्विघ्न, शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराएं। उन्होंने बताया कि शिक्षक मतदान के लिए बायें हाथ की तर्जनी पर और स्नातक चुनाव के लिए बांये हाथ की मध्यमा पर अक्षत स्याही लगाई जाएगी।

ट्रेनिंग के निर्देश

आयुक्त ने कहा कि मतदान कार्मिको व पोलिंग पार्टी कार्मिकों, पीठासीन अधिकारियों का प्रशिक्षण आयोग के दिशा-निर्देशों, मतदान व मतगणना की प्रक्रिया आदि विषयों पर कराएं। उन्होंने बताया कि बूथ एजेंट उसी जनपद का निवासी होना चाहिए तथा बैलेट पेपर में नोटा का विकल्प नहीं होगा। स्नातक के लिए सफेद व शिक्षक के लिए गुलाबी बैलेट पेपर होगा।

दोनों के लिए वोट मुमकिन

कमिश्नर ने स्पष्ट किया कि एक व्यक्ति शिक्षक व स्नातक दोनों के लिए मतदाता हो सकता है और उसका वोट अलग-अलग बूथों/केंद्र पर हो सकता है।

कताई मिल का किया निरीक्षण

कमिश्नर ने अन्य प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों के साथ मतगणना स्थल कताई मिल का निरीक्षण भी किया।

तीन को मतगणना

कताई मिल में तीन दिसंबर को मतगणना होगी, इसलिए यहां भी तैयारियां की जाने लगी हैं। कमिश्नर ने कहा कि हर दो घंटे में आयोग को मतदान प्रतिशत की जानकारी भेजी जानी है, इसके लिए सभी जनपदों में इस कार्य के लिए एक-एक नोडल अधिकारी की तैनाती की जाए। मतगणना स्थल हॉल में हवा का अच्छा आवागमन हो तथा साफ-सफाई व प्रकाश की समुचित व्यवस्था की जाए। कमिश्नर ने स्ट्रॉन्ग रूम का निरीक्षण किया तथा मीडिया सेंटर और पार्किग स्थल के लिए चिन्हित स्थानों को भी देखा।

बैलेट बॉक्स में यूनिक नंबर

जिलाधिकारी के। बालाजी ने बताया कि बैलेट बॉक्स में यूनिक नंबर होगा तथा एक हॉल में शिक्षक व एक हॉल में स्नातक की मतगणना होगी। इस अवसर पर आईजी प्रवीण कुमार, एसएसपी अजय साहनी, अपर आयुक्त रजनीश राय, एडीएम-ई मदन सिंह गब्र्याल, एसपी ट्रैफिक जितेंद्र श्रीवास्तव, सहायक नगरायुक्त ब्रजपाल सिंह आदि मौजूद रहे।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.