वेबसाइट हैक कर बना रहे थे ईटिकट

2018-08-04T16:48:10Z

चपत लगाने वाले चार हैकर्स को एसटीएफ ने शुक्रवार को लखनऊ से गिरफ्तार किया।

lucknow@inext.co.in
Lucknow: यूपीएसआरटीसी की वेबसाइट को हैक कर परिवहन विभाग को लाखों रुपये की चपत लगाने वाले चार हैकर्स को एसटीएफ ने शुक्रवार को लखनऊ से गिरफ्तार किया। खास बात यह है कि इनमें दो नाबालिग हैं जो वेबसाइट हैक कर ई-टिकट बनाते थे। वहीं यह गैंग फेसबुक और व्हाट्सएप से लोगों को डिस्काउंट पर टिकट उपलŽध कराने का झांसा देकर जाल में फंसाता था।

कल्याणपुर इलाके के रहने वाले हैं दोनों युवक

इनमें से दोनों युवक अमित कुमार और मुदित शर्मा कानपुर के कल्याणपुर इलाके के रहने वाले हैं। इस गैंग के जाली टिकट बनाकर लोगों को ठगने की शिकायत मिलने के बाद परिवहन निगम के एमडी पी। गुरुप्रसाद ने एसटीएफ के आईजी अमिताभ यश से इन्हें पकडऩे का अनुरोध किया था। उन्होंने आईजी को बताया कि यूपीएसआरटीसी की वेबसाइट से टिकट तो बुक हो रहे हैं पर उनका भुगतान नहीं मिलरहा है। आईजी ने एसटीएफ के एएसपी त्रिवेणी सिंह को इसकी जांच सौंपी जिन्होंने इस गैंग के सदस्यों को तलाश लिया। यह भी पता चला कि इस गैंग के सदस्यों के खिलाफ वजीरगंज थाने में पहले से एक मुकदमा दर्ज है।
जान गये थे कमजोरियां
दरअसल यह गैंग यूपीएसआरटीसी की वेबसाइट की कमजोरियों को भांप चुका था और बर्प सुइट जैसे वेब एप्लीकेशन सिक्योरिटी टेस्टिंग सॉफ्टवेयर की मदद से यूपीएसआरटीसी के ऑनलाइन पेमेंट सिस्टम को चकमा देकर फर्जी टिकट बुक करता था। बर्प सुइट से उन्होंने मैनइन द मिडिल अटैक किया जिससे पेमेंट गेटवे से यूपीएसआरटीसी को जा रहे पेमेंट कंफर्मेशन डाटा से छेड़छाड़ की गई।

Chrome यूजर्स के लिए वार्निंग, यह पॉपुलर ब्राउजर टूल आपके हर ऑनलाइन काम की कर रहा है चोरी!

बरेली: मिलिट्री हॉस्पिटल की यूजर आईडी हैक, बनाए फेक बर्थ सर्टिफिकेट, सेना की इंटेलीजेंस विंग जांच में जुटी


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.