- चौक-चौराहों पर पुलिस कर रही पिटाई, राशन व दवा दुकान में भी ग्राहकों की नहीं लग रही भीड़

जमशेदपुर : कोरोना वायरस को लेकर देशव्यापी लॉकडाउन के तीसरे दिन शुक्रवार को शहर में सन्नाटे जैसा माहौल दिखा। सड़क से लेकर बाजार तक बहुत कम लोग दिखे। सड़क पर तो इक्का-दुक्का बाइक या कार दिख जाती, लेकिन बाजार में तो अजीब स्थिति थी। दुकानदार सामान लेकर गुमसुम बैठा था और ग्राहक नदारद थे। दवा या राशन दुकानों में भी कहीं भीड़ नहीं थी। चौक-चौराहों पर पुलिस हर जगह मुस्तैद दिखी। बेवजह घूमने वालों को मानगो चौक, दोमुहानी पुल और बिष्टुपुर में लाठी से पिटाई भी की गई। इस डर से हुल्लड़बाज लड़कों की संख्या बहुत कम दिखी।

राशन व सब्जी की दुकानें खुलीं

मानगो, साकची, कदमा, सोनारी, गोलमुरी, काशीडीह समेत सभी इलाकों में राशन व सब्जी की दुकानें खुली रहीं, सिर्फ बिष्टुपुर में एकाध राशन दुकान ही पिछले दो दिन से खुल रहे हैं। फल दुकान पर तो बिष्टुपुर में जैसे प्रतिबंध ही लगा हुआ है। शुक्रवार को बाजार के अंदर फल की दुकानें नहीं खुलीं, रीगल गोलचक्कर के पास ठेले भी नहीं थे। पोस्टआफिस से सटकर गुरुवार तक चली जूस की दुकान भी बंद थी। इसके अलावा साकची बाजार, काशीडीह और बाराद्वारी मैदान पर सब्जी व फल की दुकानें लगी थीं। एमजीएम अस्पताल के सामने भी फल की दुकानें लगी रहीं, तो मानगो चौक पर सड़क के किनारे सब्जी व फल की दुकान लगी रही। दोमुहानी पुल पर चेकपोस्ट सक्रिय रहा। निजी वाहनों से आने वाले बाहरी लोगों की वहां थर्मल स्कै¨नग करके रजिस्टर में नाम-पता दर्ज किया जा रहा था, वहीं पुलिस के जवान वाहनों के साथ लोगों की गहन पूछताछ कर रहे थे। बाहर से आने वालों की संख्या धीरे-धीरे काफी कम हो गई। चेकपोस्ट पर मात्र 22 लोगों के नाम दर्ज किए गए।

--------------

गोलमुरी बाजार में खुली रही राशन दुकानें

गोलमुरी बाजार में गुरुवार को राशन दुकानें दोपहर एक बजे ही बंद करा दी गई थीं, जबकि शुक्रवार को कोई बंद कराने नहीं आया। मानगो व साकची में भी राशन की दुकानें देर शाम तक खुली रहीं। इससे पहले कहीं पुलिस दोपहर में राशन दुकानों को बंद करा दे रही थीं, तो कहीं प्रशासनिक अधिकारी भी दुकानदारों को भ्रमित कर रहे थे। शुक्रवार से राशन दुकानदार राहत महसूस कर रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने तो साकची के चक्की लाइन जाकर राशन विक्रेताओं से कहा कि वे चौबीस घंटे दुकान खोलें, सुरक्षा हम देंगे।

-------------------

बिष्टुपुर में नहीं लगी मुख्यमंत्री कैंटीन

जिला प्रशासन की ओर से शुक्रवार को मुख्यमंत्री कैंटीन योजना की शुरुआत की गई, लेकिन यह तीन में से दो ही स्थान पर शुरू हो सकी। मानगो चौक स्थित पेट्रोल पंप के पास और सोनारी के झाबरी बस्ती सामुदायिक भवन मैदान में इस योजना का लाभ लोगों ने उठाया। पांच रुपये में खिचड़ी और अचार का पैकेट लोगों को दिया गया। प्रशासन की घोषणा के मुताबिक कैंटीन बिष्टुपुर में ऑटो स्टैंड के पास भी लगनी थी।

--------------

सोशल डिस्टें¨सग के लिए बने घेरे

कोरोना वायरस को लेकर सोशल डिस्टें¨सग को अहम बताया जा रहा है। उपायुक्त रविशंकर शुक्ला बार-बार निर्देश दे रहे हैं कि दुकानों के बाहर एक मीटर की दूरी पर लोग खड़े हों। इसके लिए गुरुवार की रात को ही मुख्यमंत्री कैंटीन वाले स्थान पर गोल घेरे बनाए गए थे। बिष्टुपुर, साकची, मानगो आदि की दवा व राशन दुकानों के आगे भी ये घेरे बनाए गए थे। लोगों ने इसका पालन भी किया।

::::

क्त्रद्गश्चश्रह्मह्लद्गह्म ष्ठद्गह्लड्डद्बद्यह्य :

9999

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner