क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ : राजधानी में रोड पर बिल्डिंग मैटीरियल गिराकर कंस्ट्रक्शन का काम जोरों से चल रहा है. इससे सड़क पर चलने वालों के लिए ये बिल्डिंग मैटीरियल परेशानी का सबब बन रहे हैं. कोई इससे बचने के चक्कर में दूसरों को टक्कर मार दे रहा है तो किसी की बाइक फिसल जा रही है. इतना ही नहीं कई जगहों पर इस वजह से जाम भी लग रहा है. इससे निपटने के लिए रांची नगर निगम अब एक्शन मोड में आ गया है. सख्त हिदायत दी गई है कि अगर अब कहीं रोड पर या किनारे बिल्डिंग मैटीरियल दिखा तो संबंधित सुपरवाइजर की सैलरी काटी जाएगी. इसके साथ ही अपर नगर आयुक्त गिरिजा शंकर प्रसाद ने सभी वार्ड सुपरवाइजरों को शनिवार तक व्यवस्था को दुरुस्त करने का भी आदेश दिया है.

लापरवाही पर दी हिदायत

रांची नगर निगम में 53 वार्ड हैं. जहां हर वार्ड की मॉनिटरिंग के लिए मल्टी परपज सुपरवाइजर रखे गए हैं. इन्हें वार्ड में चल रही योजनाओं की प्रगति व साफ-सफाई के अलावा रोड पर बिल्डिंग मैटीरियल गिराने वालों पर भी नजर रखनी है. लेकिन कुछ दिनों से सुपरवाइजर अपनी ड्यूटी पर मुस्तैद नहीं दिख रहे. इस वजह से ही वार्डो में रहने वाले लोगों की परेशानी बढ़ गई है. इसलिए अब सड़क पर बिल्डिंग मैटीरियल दिखने पर सुपरवाइजरों की सैलरी काटी जाएगी.

दिखे तो कर सकते हैं कंप्लेन

आपको भी रोड पर कहीं बिल्डिंग मैटीरियल गिरा दिखे तो इसकी कंप्लेन कर सकते हैं. इसके लिए टोल फ्री नंबर 1800-120-2929, लैंडलाइन 0651-712-2727 और व्हाट्सएप 7633928444 नंबर जारी किया गया है. इसके बाद संबंधित अधिकारियों को कंप्लेन फारवर्ड कर दिया जाएगा. वहीं तत्काल इंफोर्समेंट टीम को मौके पर भेजकर कार्रवाई भी की जाएगी. इसके अलावा इंस्पेक्शन टीम को हर दिन की रिपोर्ट देने का भी आदेश दिया गया है. ताकि वार्डो की स्थिति की जानकारी मिल सके.

वर्जन

जिस वार्ड में भी जहां सड़क पर बिल्डिंग मैटीरियल, टूटा फूटा या मिट्टी पड़ा है वहां उसे अभियान चलाकर उठवाने का आदेश दिया गया है. शनिवार के बाद जिस भी वार्ड में यदि ऐसा पाया जाता है तो वहां के सुपरवाइजर के मानदेय से प्रतिदिन के हिसाब से कटौती करने को कहा गया है.

गिरिजा शंकर प्रसाद, अपर नगर आयुक्त, आरएमसी