अब तक 119 लोगों में हुई कोरोना संक्त्रमण की पुष्टि

54 लोगों कोरोना से हुए रिकवर, सात मरीजों की हुई मौत

Meerut । सब्जी विक्त्रेता समेत तीन मरीजों में शनिवार में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई। इनमें एक मरीज की रिपोर्ट मौत के बाद शाम को आई, जबकि अन्य दो मरीजों के पॉजिटिव होने की रिपोर्ट रात को मिली। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग में खलबली मच गई। जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ। विश्वास चौधरी ने बताया की मेरठ में मरीजों का आंकड़ा अब 119 पहुंच गया है। उधर एक मरीज की कोरोना से मौत हो गई। अब तक सात लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं 54 मरीज रिकवर हो चुके हैं।

सब्जी विक्त्रेता पॉजिटिव

शनिवार को आई पॉजिटिव रिपो‌र्ट्स के मुताबिक 57 साल का एक व्यक्ति मरीज सब्जी विक्त्रेता है। सदर स्थित रविंद्रपुरी निवासी उक्त मरीज नवीन मंडी के बाहर सब्जी बेचता है। मरीज के बेटे ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से ही उसके पिता सब्जी बेचने जा रहे थे। इससे पहले लॉक डॉउन में साधन न मिलने की वजह से घर पर ही रह रहे थे। सब्जी विक्त्रेता के परिवार में उनकी पत्नी, दो बेटे और एक बेटे की पत्नी भी शामिल है। दोनों बेटे अलग-अलग कपड़ों की शॉप्स पर काम करते हैं। वही एक 30 वर्षीय मरीज नौचंदी थाने के पास जैदी फा‌र्म्स स्थित मजूर नगर का रहने वाला है। जबकि 57 साल के ही लिसाड़ी गेट स्थित किदवई नगर निवासी मरीज की मौत हो गई है।

-------

कोरोना से एक और मौत

- मौत के बाद रिपोर्ट में हुई कोरोना संक्त्रमण की पुष्टि

- मेडिकल कॉलेज की इमरजेंसी में एडिमट था मरीज

मेरठ। जिले में रविवार को कोरोना की वजह से एक और मौत हो गई। मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ। आरसी गुप्ता ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि मरीज की मौत के बाद उसकी कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मरीज की मौत शनिवार रात करीब तीन बजे हो गई थी, जबकि जांच रिपोर्ट रविवार शाम चार बजे आई।

सांस और दिल की समस्या

प्रिंसिपल ने बताया कि मृतक मरीज शनिवार को देर शाम करीब आठ बजे मेडिकल कॉलेज की इमरजेंसी में लाया गया था। उनको हार्ट संबंधी समस्या थी, जबकि सांस भी फूल रही थी। कोरोना ओपीडी से स्क्त्रीनिंग करने के बाद मरीज को सीधा इमरजेंसी में भेज दिया गया था। उन्होंने बताया कि मरीज में कोरोना जैसे लक्षण नहीं थे। हालांकि यहां हर मरीज को कोरोना पॉजिटिव मानकर ही इलाज किया जा रहा है।

होल्डिंग एरिया बंद

मृतक की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट के आने के बाद इमरजेंसी के होल्डिंग एरिया को 24 घंटे के लिए बंद कर दिया गया है। इस एरिया में रखे गए सभी मरीजों को शिफ्ट कर यहां सेनेटाइजेशन करवाया गया है। प्रिंसिपल ने बताया कि इमरजेंसी में ऐसे मरीज भी आ रहे हैं, जो कोरोना सस्पेक्टेड हैं। इनके लिए अलग से आठ बेड का होल्डिंग एरिया बनाया गया है, जिससे दूसरे मरीज सेफ रहें।

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner