- जेडीयू, बीजेपी और कांग्रेस की बिग मीटिंग

- आई नेक्स्ट ने 18 मई को लिखा था एक मोड़ पर खड़े हैं लालू-नीतीश

patna@inext.co.in

PATNA : जेडीयू और आरजेडी एक साथ मिलकर बिहार विधानसभा उपचुनाव लड़ने को तैयार है. इसे जेडीयू से नेशनल प्रेसीडेंट शरद यादव और स्टेट प्रेसीडेंट वशिष्ठ नारायण सिंह ने भी स्पष्ट किया. आई नेक्स्ट ने क्8 मई को लिखा था, लोकसभा तो बहाना है, विधानसभा उपचुनाव ने डराया, एक मोड़ पर खड़े हैं लालू-नीतीश. जेडीयू कार्यकारिणी की मीटिंग में भी इस पर बात हुई कि कैसे दोनों पार्टियां एक साथ बीजेपी का मुकाबला करे. तीन घंटे तक चली जेडीयू कार्यकारिणी की मीटिंग में बीजेपी से लड़ाई के तौर तरीके और आरजेडी के साथ गठबंधन धर्म पर बातें हुईं.

कांग्रेस अलग पड़ी!

कांग्रेस के बारे में इलेक्शन में लोगों की आम राय यही रही कि ये महंगाई बढ़ाने वाली पार्टी है. इसका बड़ा लाभ बीजेपी को मिला भी. शायद यही वजह है कि जेडीयू और आरजेडी की नजदीकियों के बीच कांग्रेस अलग पड़ गई है. इधर सदाकत आश्रम में हुई कांग्रेस की एक इंपॉर्टेट मीटिंग में ज्यादातर नेताओं व कार्यकर्ताओं की राय ये रही कि पार्टी को अपने दम पर इलेक्शन लड़ना चाहिए और उपचुनाव की क्0 में से क्0 सीटों पर अपने कैंडीडेट खड़े करने चाहिए. पार्टी के स्टेट प्रेसीडेंट अशोक चौधरी ने कहा कि आलाकमान को फैसला लेना है, हम उन्हें कार्यकर्ताओं की भावनाओं से अवगत करा देंगे.

बीजेपी ने कहा क्0 में क्0 जीतेंगे

बीजेपी बिहार में सरकार बनाने के मिशन में लग गई है. पार्टी कार्यकारिणी की दो दिवसीय मीटिंग में इस पर खूब मंथन हुआ कि मिशन भारत को मिशन बिहार में कैसे बदला जाए. लालू प्रसाद और नीतीश कुमार के मेलमिलाप के बाद बीजेपी अंदरखाने में इसकी चर्चा खूब है कि कैसे दोनों ताकतों से निबटा जाए. क्या बीजेपी अपना चिरपरिचित कार्ड खेले या फिर दुश्मन के सोशल इंजीनियरिंग हथियार का जवाब उसी तरह के हथियार से दे. पार्टी के सीनियर लीडर शाहनवाज हुसैन ने कहा कि नीतीश कुमार को उदारता दिखानी चाहिए और क्0 में से क्0 सीट लालू प्रसाद की पार्टी आरजेडी को दे देनी चाहिए. उन्होंने ये भी कहा कि क्0 में से क्0 सीट बीजेपी बिहार में जीतेगी. एक्स डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने कहा कि जंगलराज टू का खात्मा बीजेपी ही करेगी.