-नैनी में बनेगा दो एक्स्ट्रा लूप लाइन, प्रयाग हाल्ट को किया जाएगा डेवलप

-सूबेदारगंज को बनेगा टर्मिनल, छिवकी जंक्शन जल्द ही होगा डेवलप

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: नई-नई घोषणाएं कर, पब्लिक की तालियां बटोर कर बाद में उन्हें धोखा देने और योजनाओं को छोड़ देने का काम हमारा नहीं है. इसलिए हम नई घोषणाएं नहीं करेंगे. जो परियोजनाएं पहले से लंबित हैं, हम उसे पूरा करेंगे. गुरुवार को इलाहाबाद आए रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने अधिकारियों की मीटिंग में और पब्लिक के बीच रेलवे की मजबूरी बताते हुए नई घोषणाएं करने से बचते रहे. लेकिन जब समस्याएं और पब्लिक व नेताओं की मांग सामने आई तो वे खुद को नहीं रोक सके और इलाहाबाद को काफी कुछ दे बैठे.

जब पहुंचे सांसद श्यामाचरण के घर

सूबेदारगंज में रेल अधिकारियों के साथ मीटिंग करने और स्टेशन का निरीक्षण करने के बाद रेल राज्य मंत्री सांसद श्यामाचरण गुप्ता के आवास पर पहुंचे. जहां भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारी और कार्यकर्ता मौजूद थे. सभी ने रेल राज्य मंत्री का स्वागत किया. स्वागत से प्रसन्न रेल राज्य मंत्री ने रेलवे की विवशता बताते हुए कहा, मैं नई योजनाओं की घोषणा नहीं करूंगा.

पिघलते हुए कई घोषणाएं कर डाली

पहले तो रेल राज्य मंत्री ने घोषणाओं से इनकार किया, लेकिन सांसद श्यामाचरण गुप्ता और अन्य लोगों ने जब डिमांड रखी. इलाहाबाद की समस्याएं गिनाई तो रेल राज्य मंत्री पिघल गए. उन्होंने इलाहाबाद के लिए कई घोषणाएं कर डालीं. रेल राज्य मंत्री ने बताया कि इलाहाबाद में ट्रेनों के रश को देखते हुए नैनी में जल्द ही दो एक्स्ट्रा लूप लाइन बनाया जाएगा. ताकि इलाहाबाद जंक्शन का लोड कम हो सके. यही नहीं प्रयाग हाल्ट को भी और अधिक डेवलप किया जाएगा. कुछ गाडि़यों को प्रयाग स्टेशन से चलाया जाएगा. सूबेदारगंज को टर्मिनल बनाया जाएगा. इस पर करीब ख्म् करोड़ रुपय खर्च किया जाएगा. उन्होंने कहा कि छिवकी जंक्शन को जल्द ही और अधिक डेवलप किया जाएगा. उन्होंने कहा कि रामबाग के जाम से शहर की पब्लिक को जल्द ही छुटकारा मिल जाएगा, जिसका प्लान तैयार कर लिया गया है.

एनसीआर अधिकारियों के साथ की मीटिंग

सांसद आवास पहुंचने के पहले रेल राज्य मंत्री ने सुबेदारगंज स्थित रेलवे मुख्यालय पर एनसीआर के अधिकारियों के साथ मीटिंग की. मीटिंग में उन्होंने अधिकारियों को एनसीआर में पड़ने वाले मानव रहित रेलवे क्रासिंगों को समाप्त करने का आदेश दिया. पैसेंजर्स सुविधाओं को कड़ाई से लागू करने और अवैध वेंडरों के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा.

एनसीआर जीएम प्रदीप कुमार ने छिवकी स्टेशन पर यात्री सुविधा के लिए आठ करोड़ रुपये के प्रस्ताव को रखा, जिस पर रेल राज्य मंत्री ने सहमति जताई.