कुंभ के कार्यो की ब्रांडिंग और मॉनिटरिंग दोनों रेल मंत्री स्वयं कर रहे हैं

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने इलाहाबाद जंक्शन के लिए तैयार वीडियो किया ट्वीट

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: हर छह वर्ष में लगने वाले अ‌र्द्धकुंभ और 12 वर्ष में लगने वाले कुंभ मेला से 2019 का कुंभ काफी अलग होगा. क्योंकि इस बार ऐसी तैयारी की जा रही है, जो इसके पहले कभी नहीं की गई थी. तैयारी के साथ ही ब्रांडिंग में भी कोई कमी नहीं छोड़ी जा रही है. इसकी जिम्मेदारी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ ही रेल मंत्री पीयूष गोयल व अन्य मंत्री उठा रहे हैं. रेल मंत्री पीयू गोयल इलाहाबाद में रेलवे द्वारा कराए जा रहे कार्यो की न सिर्फ प्लानिंग कर रहे हैं, बल्कि मॉनिटरिंग के साथ ही ब्रांडिंग में भी लगे हुए हैं.

ट्विटर से दी जानकारी

इलाहाबाद जंक्शन के आसमान पर काफी ऊंचाई में इस बार लेजर लाइट शो के जरिये कुंभ कलश का दृश्य दिखाने के साथ ही अन्य आकर्षक चित्र बनाए जाएंगे, जो संगम क्षेत्र से लोगों को दिखाई देंगे. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने शनिवार को अपने ट्वीटर हैंडिल से ट्वीट कर ये जानकारी दी. उन्होंने बताया है कि लेजर लाइट के जरिये संगम क्षेत्र में मौजूद लोगों को इलाहाबाद जंक्शन पहुंचने का रास्ता दिखाया जाएगा. लेजर लाइट की मदद से लोग आसानी से जंक्शन की तरफ पहुंच सकेंगे. इसके साथ ही रेल मंत्री ने कुंभ मेला की महिमा का वर्णन करने वाला एक वीडियो भी अपलोड किया है.

रेल मंत्री का संदेश

हिंदू आस्था के संगम कुंभ मेला के लिए रेलवे ने तैयारियां शुरू कर दी हैं. इसी क्रम में इलाहाबाद रेलवे स्टेशन पर लेजर लाइट का प्रबंध किया जाएगा जो दूर से ही श्रद्धालुओं को मार्ग दिखाएगा. ताकि वे आसानी से रेलवे स्टेशन तक पहुंच सकें.

पब्लिक ने किया रीट्वीट

दारागंज स्टेशन पर लोगों की जबर्दस्त भीड़ रहती है. यहां से भी बड़ी संख्या में लोग ट्रेन पकड़कर जाते हैं. इसलिए दारागंज स्टेशन पर भी यह व्यवस्था होनी चाहिए.

रमाशंकर

दारागंज

रेल मंत्री जी, पैसेंजर्स के ट्रेन में बैठने की भी व्यवस्था करें. जितनी सीट हो, उतने ही टिकट दिए जाएं. 72 सीट पर 300 टिकट क्यों?

आसिफ

रेलवे स्टेशन तो पहुंच ही जाएंगे, परंतु रेलवे महकमा लोगों को तय समय पर संबंधित डेस्टीनेशन तक पहुंचाने की गारंटी कब लेगा. ठंड में कोहरे और गर्मी में गर्मी के कारण लेट लतीफी कब बंद होगी.

विनोद कुमार शुक्ला

इलाहाबाद के बक्शी बांध रेलवे ओवर ब्रिज का काम अभी तक शुरू नहीं हुआ है. जबकि यह एक महत्वपूर्ण मार्ग है, जो तीन रेलवे स्टेशन को जोड़ता है.

अभिषेक कुमार पांडेय