मुंबई (आईएएनएस)आज यानी कि मंगलवार को बॉलीवुड के 'शोमैन' राज कपूर की पुण्यतिथि है। सदाबहार अभिनेता व फिल्म निर्माता का 32 साल पहले निधन हो गया था और उन्हें आज भी प्रशंसकों द्वारा हिंदी सिनेमा में उनके अपार योगदान के लिए याद किया जाता है। 'फर्स्ट सुपरस्टार', 'शोमैन', 'लीजेंड' ये कुछ मुख्य शीर्षक हैं जिनके साथ उनके फैंस ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। एक यूजर ने ट्वीट कर कहा, 'उनकी विरासत आगे बढ़ेगी। वह अभिनय, निर्माण और निर्देशन के आदर्श 'सांगम' थे।' थ्रोबैक तस्वीरों को पोस्ट करने से लेकर उनकी कला की प्रशंसा करने और उनकी बनाई फिल्मों को याद करके मंगलवार को सोशल मीडिया पर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई।

एक फैन ने डाला वीडियो

दिग्गज अभिनेता और फिल्म निर्माता को श्रद्धांजलि देते हुए, एक उपयोगकर्ता ने एक पुराना वीडियो साझा किया जिसमें कपूर पंजाबी में बात करते हुए दिखाई दे रहे हैं। फैन ने लिखा, 'राज कपूर को अब तक पंजाबी बोलते हुए नहीं सुना है! यह कुछ पुरानी यादें हैं, जो दिल को छूती हैं, मान जिंवेदी सत्त, करम न दिंडी वंद।' राज कपूर पृथ्वीराज और रामसरनी कपूर की सबसे बड़ी संतान थे। नौ साल की उम्र में, वह पहली बार 1935 की फिल्म "इंकलाब" में पर्दे पर दिखाई दिए। इंडस्ट्री में मुख्य भूमिका में उनका प्रमुख ब्रेक मधुबाला के सामने फिल्म 'नील कमल' (1947) था।

1948 में बनाया अपना स्टूडियो

बाद में 1948 में, 24 साल की छोटी उम्र में, उन्होंने अपना स्टूडियो - आरके फिल्म्स स्थापित किया। 'आग' उनकी पहली निर्देशकीय परियोजना थी। 'आवारा', 'श्री 420', 'मेरा नाम जोकर' और 'संगम' राज कपूर की कुछ सदाबहार फिल्में हैं। कपूर ने 1946 में कृष्णा कपूर से शादी कर ली। दिवंगत दंपति के पांच बच्चे थे- रणधीर, रितु, ऋषि, रीमा और राजीव कपूर। ऋषि और रितु अब नहीं रहे। 2 मई 1988 को, राज कपूर को दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। वह अस्वस्थ थे और उन्होंने ऑक्सीजन मास्क के साथ समारोह में भाग लिया। 2 जून 1988 को कपूर ने अंतिम सांस ली।

Posted By: Mukul Kumar

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk