- चार पर जदयू, चार पर राजद और दो सीट मिली कांग्रेस को

- 10 सीटों पर 21 अगस्त को होना है उपचुनाव

- नॉमिनेशन की लास्ट डेट 2 से पहले तालमेल से जुड़ी औपचारिक घोषणा होगी

patna@inext.co.in

PATNA: आखिरकार जेडीयू और आरजेडी की दोस्ती हो ही गई. कांग्रेस भी साथ आ गई. तीनों ने पहले तो आरजेडी को चार, जेडीयू को चार और कांग्रेस को दो सीटें दीं, लेकिन फिर मन-मिजाज और तेवर बदले. अब आरजेडी को चार, जेडीयू को तीन और कांग्रेस को दो सीटें मिलेगीं बिहार उपचुनाव के महागठबंधन में. बीजेपी पार्लियामेंट इलेक्शन में इतनी सीट ही ले आयी कि दुश्मन के दुश्मन एक हो गए. आरजेडी को छपरा, मोहद्दीनगर, राजगनगर और बांका की सीटें मिली हैं, जेडीयू को जाले, हाजीपुर, मोहनिया और परबत्ता की सीट मिली है. कांग्रेस नरकटियागंज और भागलपुर से उपचुनाव में कंडीडेट उतारेगी. ये कहा जा रहा है कि जाले के बदले जेडीयू को विधान परिषद् की एक सीट दी जाएगी.

लालू-नीतीश ने बनाया है फार्मूला!

कहा जा रहा है कि लालू प्रसाद और नीतीश कुमार के बीच फोन पर बातचीत हुई और इसके बाद सीटों के बंटवारे का ये फार्मूला बना. जेडीयू के नए दूत बने कभी लालू के नजदीकी रहे श्याम रजक. उन्होंने लालू प्रसाद से मुलाकात की और इस पर बात हुई. जिन दस सीटों पर उपचुनाव होने वाले हैं उनमें से छह बीजेपी, तीन आरजेडी और एक जेडीयू के जिम्मे थी. आरजेडी के रामलखनराम रमण राजनगर से, सम्राट चौधरी परवत्ता से, जावेद इकबाल अंसारी बांका से और बीजेपी के विजय कुमार मिश्र जाले से एवं राणा गंगेश्वर सिंह मोहीउद्दीनगर से जीते थे. लेकिन उन्होंने विधान सभा से इस्तीफा दे दिया था और जेडीयू में शामिल हो गए थे.

ऐसे बांटी सीटें

जेडीयू

हाजीपुर

परवत्ता

मोहनिया

जाले

आरजेडी

मोहीउद्दीनगर

छपरा

राजनगर

बांका

कांग्रेस

भागलपुर

नरकटियागं

बांका

किसके जिम्मे थीं कौन सी सीटें

राजनगर- आरजेडी

जाले- बीजेपी

परबत्ता-आरजडी

मोहिउद्दीनगर- बीजेपी

मोहनिया- जेडीयू

हाजीपुर- बीजेपी

छपरा- बीजेपी

नरकटियागंज- बीजेपी

भागलपुर- बीजेपी

जेडीयू व आरजेडी के बीत नजदीकी का ये पहला टेस्ट होगा. बीजेपी के अहंकार का भी ये लिटमस टेस्ट होगा. ये उपचुनाव विधान सभा के लिए है. लोकसभा इलेक्शन से इसका स्वरूप बिल्कुल अलग होगा.

वशिष्ठ नारायण सिंह, स्टेट प्रेसीडेंट, जेडीयू