आगरा. छह दिन (13-18 अगस्त) के लिए परिवहन निगम ने चालकों की छुट्यिां निरस्त कर दीं गई हैं. इसके लिए उन्हें छह दिन में 1800 किमी का संचालन करने पर 1200 रुपये की प्रोत्साहन राशि दिए जाने की भी घोषणा की गई है. ताकि चालक प्रोत्साहन राशि के लालच में छुट्टी न लें और कार्य में जुटे रहे. लेकिन कहीं ये प्रोत्साहन राशि का लालच हादसे का कारण न बन जाए. जबकि हाल ही में झरना नाले पर हुए बस हादसे में 19 लोगों की जानें जा चुकीं हैं. इस हादसे का प्रमुख कारण नींद बताई गई है. इस ओर भी ध्यान देने की जरूरत है.

13 से 18 तक विशेष सुविधा

रक्षाबंधन पर यात्रियों का आवागमन बढ़ जाता है. इसके लिए परिवहन विभाग ने दो दिन पहले और तीन दिन बाद तक बसों के संचालन के लिए विशेष व्यवस्था की है. इसके लिए अधिकारियों से लेकर अन्य संबंधित अधिकारियों की छुट्यिां निरस्त कर दीं गई हैं. इसमें चालकों के लिए प्रोत्साहन राशि दिए जाने का निगम ने निर्णय लिया है. निगम को यह अच्छी तरह मालूम है कि इन छह दिनों में आय काफी बढ़ जाती है.

आय बढ़ाने के चक्कर में कहीं न हो जाए धोखा

अपनी आय बढ़ाए जाने के चक्कर में कहीं यात्रियों के साथ धोखा न हो जाए. चालकों को रेस्ट देना आवश्यक है. लेकिन इस त्योहार पर ऐसा नहीं होगा. बसों के चक्कर बढ़ाए जाएंगे. बसें इधर से उधर लगातार चक्कर लगाएंगी. इसके लिए चालक और परिचालकों पर प्रेशर रहेगा. आए बढ़ाए जाने के लिए लगातार बसों का संचालन कहीं यात्रियों के लिए नुकसान देह साबित न हो जाए.

सभी बसों में मिलेगी सुविधा

परिवहन निगम की सभी बसों में बहनों को मुफ्त में सफर करने का मौका दिया गया है. यह सुविधा केवल 15 अगस्त रात्रि 12 बजे तक मिलेगी. निगम की सभी श्रेणी की बसों में बहनों को फ्री में यात्रा करने का मौका दिया गया है.

बुकिंग कराने वालों के खातों में पैसा होगा वापस

जिन बहनों ने पिंक सेवा या फिर किसी भी श्रेणी की ऐसी बस में 15 अगस्त का रिजर्वेशन कराया है, उनको भी फ्री में सफर करने का मौका मिलेगा. बुकिंग का पैसा उनके खातों में वापस भेजा जाएगा.

अब नहीं हो रहे रिजर्वेशन

प्रदेश सरकार की घोषणा के बाद से अब रिजर्वेशन नहीं हो रहे हैं. फ्री में सफर करने की जानकारी होने के बाद बहनें लगातार साइट पर जाकर रिजर्वेशन कराए जाने की कोशिश कर रहीं हैं, लेकिन अब रिजर्वेशन नहीं हो रहे हैं. जिन बहनों ने काउंटर पर आकर बुकिंग कराई है, उनका भी पैसा वापस होगा.