- गुरु पर्व पर गुरुद्वारा की सिक्योरिटी से खिलवाड़

- मेन गेट छोड़ किसी भी दूसरे गेट पर नहीं दिखी सिक्योरिटी

- बाड़े की गली गेट पर सेवादार भी थे नदारद

patna@inext.co.in

PATNA CITY : इंटरनेशनल टूरिस्ट प्लेस में शुमार तख्त श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब गुरुद्वारा की सिक्योरिटी से खिलवाड़ किया जा रहा है. गुरुद्वारा के मेन गेट को छोड़ किसी भी दूसरे गेट पर सिक्योरिटी शुक्रवार को देखने को नहीं मिली. किसी भी दूसरे गेट पर पटना पुलिस के जवान नहीं दिखे. सिख श्रद्धालु और पब्लिक हरिमंदर गली के गेट और बाड़े की गली के गेट से बड़े आराम से गुरुद्वारा के अंदर आ-जा रहे थे. उन्हें रोकने टोकने वाला और उनके सामान की जांच करने वाला वहां कोई मौजूद नहीं था. दरअसल, तख्त श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब गुरुद्वारा में श्री गुरु गोविंद सिंह जी महाराज की फ्ब्8वें प्रकाश उत्सव मनाया जा रहा है. गुरु पर्व पर देश-विदेश से भ्0 हजार से अधिक श्रद्धालुओं के आने की संभावना है. गुरुद्वारा में मत्था टेकने सारे सिख श्रद्धालु पहुंचेंगे. ये बात गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी के अधिकारी और पटना पुलिस के ऑफिसर भी जानते हैं. गुरु पर्व के दौरान किसी प्रकार की अप्रिय वारदात न हो, इसलिए गुरुद्वारे में पटना पुलिस के ऑफिसर व जवानों की ड्यूटी लगाई गई है.

आतंकवादी एक्टीविटी का डर

बिहार में आतंकियों ने साल ख्0क्फ् में पहले बोध गया के महाबोधी मंदिर और फिर पटना के गांधी मैदान में सीरियल बम ब्लास्ट की वारदातों को अंजाम दिया है. इन दोनों वारदातों के बाद भी गुरु पर्व पर गुरुद्वारा की सिक्योरिटी में थोड़ी सी चूक पूरे खुशी भरे माहौल करी सूरत बदल सकती है.

सिर्फ सेवादार हैं गेट पर

मेन गेट को छोड़ दें दो गुरुद्वारा के अंदर जाने के लिए हरिमंदिर गली गेट से भी बड़ी संख्या में सिख श्रद्धालु अंदर जाते आते हुए दिखे, लेकिन इस गेट पर सेवादार कमलजीत सिंह को छोड़ न तो कोई दूसरा सेवादार दिखा और न ही पुलिस वाला. गुरुपर्व की भीड़ को अकेले एक सेवादार संभाल नहीं सकता है. वहीं गुरुद्वारा में एंट्री करने के लिए तीसरा गेट बाड़े की गली से है. शुक्रवार की शाम गेट पर न तो सेवादार मिला और न ही पटना पुलिस के जवान दिखे. बाहर से आए सिख श्रद्धालु और लोकल पब्लिक आराम से इस गेट का इस्तमाल करते दिखे.

मेन गेट पर लगा मेटल डिटेक्टर

अशोक राजपथ पर गुरुद्वारा का मेन गेट है. यहां पुलिस के जवान भी दिखे और गुरुद्वारा के सेवादार भी. पुलिस के जवान हैंड मेटल डिटेक्टर से सामान लेकर गुरुद्वारा के अंदर जाने वालों को चेक कर रहे थे. इसके साथ ही पटना पुलिस की ओर से मेन गेट पर एक साथ दो मेटल डिटेक्टर लगाया गया है. गुरुद्वारा के अंदर जाने वाले सभी लोगों को मेटल डिटेक्टर के अंदर से होकर गुजरना पड़ रहा है.

पहुंची बम स्क्वायड की टीम

गुरु पर्व के दौरान किसी भी प्रकार की अनहोनी से निपटने के लिए बम स्क्वायड की टीम को गुरुद्वारा बुला लिया गया है. गुरु पर्व के दौरान बम स्क्वायड की एक टीम गुरुद्वारा में ही रहेगी. प्रबंधन कमेटी की ओर से टीम को ठहरने के लिए एक रूम भी एलॉट किया गया है.

सिक्योरिटी का पूरा इंतजाम है. सिक्योरिटी में कोई कोताही नहीं बरती जाएगी. अगर कहीं कोई कमी है तो उसे हम खुद देख लेते हैं.

- आरएस जीत, सीनियर वाइस प्रेसिडेंट, गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी

काफी संख्या में पुलिस वालों की तैनाती की गई है. सभी एंट्री प्वाइंट्स पर पुलिस वाले जरूर होंगे. हो सकता है कि भीड़ की वजह से कहीं बैठ गए हों. मैं इसका खुद जायजा लेता हूं.

- राजेश कुमार, एसडीपीओ पटना सिटी.