- लखनऊ में मोहनलालगंज से उन्नाव तक बनेगी टू-लेन सड़क

- व‌र्ल्ड बैंक और एशियन डेवलपमेंट बैंक के लोन से होगा निर्माण

- पांच साल तक कार्यदायी संस्था को करना होगा सड़क का मेंटीनेंस

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW :

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार को कैबिनेट ने प्रदेश मे सात सड़क परियोजनाओं को मंजूरी प्रदान कर दी. यह सभी सड़कें व‌र्ल्ड बैंक और एशियन डेवलपमेंट बैंक से लोन लेकर बनाई जाएंगी जिसकी मंजूरी भी पूर्व में मिल चुकी है. सभी सड़कें ईपीसी पद्धति से टू-लेन बनाई जाएंगी हालांकि इनमें से चार दस मीटर की और तीन सात मीटर चौड़ी होंगी. खास बात यह है कि इन सड़कों का निर्माण करने वाली कार्यदायी संस्थाओं को पांच साल तक इसका मेंटीनेंस भी करना होगा. वहीं दूसरी ओर इन पर टोल टैक्स वसूलने के बाबत अभी कोई निर्णय नहीं लिया गया है. राज्य सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने बताया कि उप्र कोर रोड डेवलपमेंट स्कीम के तहत बनने वाली करीब 400 किमी. की इन सड़कों के निर्माण में करीब 2125 करोड़ की लागत आएगी जिसके लिए एशियन डेवलपमेंट बैंक और केंद्रीय वित्त मंत्रालय द्वारा व‌र्ल्ड बैंक से अनुबंध हो चुका है.

रोड की कुल लंबाई : 400 किमी.

निमार्ण में कुल लागत : 2125 करोड़ रुपए

इन सड़कों का होना है निर्माण

1. मोहनलालगंज-मौरावां-उन्नाव

- लंबाई- 48 किमी

- चौड़ाई- सात मीटर

- लागत- 270.56 करोड़

- 18 माह में कार्य करना होगा पूरा

2. बदायूं-बिल्सी-बिजनौर

- लंबाई- 79.42 किमी

- चौड़ाई- 10 मीटर

- लागत- 419.91 करोड़

- 24 माह में कार्य करना होगा पूरा

3. बुलंदशहर-अनूपशहर

- लंबाई- 36 किमी

- चौड़ाई- 10 मीटर

- लागत- 171.022 करोड़

- 18 माह में कार्य करना होगा पूरा

4. मुजफ्फरनगर-बड़ौत

- लंबाई- 59 किमी

- चौड़ाई- 10 मीटर

- लागत- 298.06 करोड़

- 18 माह में कार्य करना होगा पूरा

5. गोला-शाहजहांपुर

- लंबाई- 57.22 किमी

- चौड़ाई- 10 मीटर

- लागत- 418.48 करोड़

- 18 माह में कार्य करना होगा पूरा

6. कप्तानगंज-नौरंगिया-गौरीबाजार-बरहज-रुद्रपुर एवं रुद्रपुर बाईपास

- लंबाई- 85 किमी

- चौड़ाई- सात मीटर

- लागत- 384.64 करोड़

- 18 माह में कार्य करना होगा पूरा

7. अलीगंज-सोरों

- लंबाई- 36 किमी

- चौड़ाई- सात मीटर

- लागत- 162.53 करोड़

- 18 माह में कार्य करना होगा पूरा