agra@inext.co.in
AGRA:
थाना सिकंदरा में एक स्टूडेंट ने अध्यापिका का जीना दुश्वार कर दिया. पहले तो फेक फेसबुक आईडी बनाकर दोस्ती की. टीचर को जब हकीकत का पता चला तो फटकार लगा दी. इसके बाद स्टूडेंट धमकी दे रहा है. अध्यापिका इतना डर गई कि उन्होंने थाना सिकंदरा में स्टूडेंट के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है.

कुछ महीने से शुरू हुई थी चेटिंग
सिकंदरा निवासी अध्यापिका एक डिग्री कॉलेज में पढ़ाती है. 10-12 महीने पहले उनकी एक फेसबुक यूजर से दोस्ती हो गई और उनकी चैटिंग होने लगी. बाद में अध्यापिका को पता चला कि फेसबुक फ्रेंड और कोई नहीं, बल्कि उनका ही एक स्टूडेंट है. इस पर उन्होने स्टूडेंट को फटकार दिया. इसके बाद भी वह नहीं माना तो अध्यापिका ने प्रबंधन से उसकी शिकायत कर दी. कॉलेज प्रबंधन ने स्टूडेंट एक सेमेस्टर के लिए निष्कासित कर दिया.

फिर से पड़ा टीचर के पीछे
सेकेंड सेमेस्टर में आते ही उसने माफी मांगने के बहाने अध्यापिका के पास आने की बार-बार कोशिश की. आरोप है कि अध्यापिका ने सख्ती दिखाई तो स्टूडेंट ने अपने साथी के साथ अध्यापिका को बीच रास्ते में रोक लिया और धमकी दी कि फोटो एडिट कर सोशल मीडिया पर बदनाम कर देगा. अध्यापिका की शक्ल बिगाड़ने की भी धमकी दी. इस धमकी के बाद से अध्यापिका दहशत में आ गई.

थाने में दर्ज कराया मुकदमा
पीडि़ता ने मामले में थाना सिकंदरा में शिकायत की. पीडि़ता के मुताबिक स्टूडेंट आपराधिक प्रवत्ति का है. उस पर छेड़छाड़ के मामले पहले से दर्ज हैं. अध्यापिका ने पुलिस से गुहार लगाई है कि उनके साथ कोई भी घटना होती है तो उसका जिम्मेदार स्टूडेंट होगा.