- टीईटी एग्जाम में 2,213 स्टूडेंट्स ने छोड़ी परीक्षा

- दो केंद्रों पर अव्यवस्थाओं के चलते हुआ हंगामा

agra@inext.co.in

AGRA. मुहावरे और व्याकरण के प्रश्न जब हल किए तो लगा कि पेपर आसान है. लेकिन इंग्लिश में पैराग्राफ और मीनिंग्स के आंसर लिखने में पसीने छूट गए. एसएसटी में जब स्टूडेंट्स को सामाजिक प्रश्नों का सामना करना पड़ा, तो उन्हें फिर लगा कि पेपर ईजी है. चाइल्ड डेवलपमेंट सेक्शन में तो स्टूडेंट्स को कोई दिक्कत ही नहीं हुई. कुछ ऐसा ही नजारा था सैटरडे को टीईटी परीक्षा के दौरान क्लासरूम का. सिटी में कड़ी सुरक्षा के बीच फ्म् केंद्रों पर टीईटी की परीक्षा हुई. पहले दिन ख्क्,ब्8भ् परीक्षार्थियों को परीक्षा देनी थी, लेकिन ख्ख्क्फ् परीक्षार्थी परीक्षा देने नहीं पहुंचे.

गलत ओएमआर शीट देने पर हंगामा

टीईटी परीक्षा के दौरान दो केंद्रों पर अव्यवस्थाओं के चलते परीक्षार्थियों को परेशानी का सामना करना पड़ा. देवरी रोड स्थित कांशीराम उ.मा. विद्यालय में कक्ष निरीक्षकों ने स्टूडेंट्स को गलत ओएमआर शीट बांट दी. जब स्टूडेंट्स ने ओएमआर शीट और पेपर पर अलग-अलग कोड देखे, तो उन्होंने हंगामा करना शुरू कर दिया. वे कॉलेज से बाहर निकलकर सड़क पर आ गए. इस दौरान रोड के दोनों तरफ वाहनों की कतारें लग गई. सूचना पर पहुंचे अधिकारियों ने स्टूडेंट्स को समझा-बुझाकर मामला शांत कराया. इसके बाद क्9 परीक्षार्थियों के लिए दूसरी व्यवस्था कर दोबारा एग्जाम शुरु कराया गया. वहीं, सिटी के दीप इंटर कॉलेज पर भी दो स्टूडेंट्स की ओएमआर शीट चेंज हो गई. इसे लेकर स्टूडेंट्स ने जमकर हंगामा किया. दोनों केंद्रो पर परीक्षार्थियों को अतिरिक्त समय भी दिया गया.

क्भ्0 क्वेंचन्स का था पेपर

टीईटी की परीक्षा दो पालियों में हुई. इसमें पहली पाली में क्7,फ्भ्0 स्टूडेंट्स ने पेपर दिया. पेपर को चार भागों में बांटा गया था. इसमें हिंदी, इंगलिश, एसएसटी और चाइल्ड डेवलपमेंट सेक्शन था. सारे सेक्शंस में फ्0-फ्0 क्वेशचंस थे. वहीं, एसएसटी में म्0 क्वेशचंस थे. इसमें स्टूडेंट्स को पेपर हल करने में परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा. वहीं दूसरी पाली में क्9,ख्ख् परीक्षार्थियों ने लैंग्वेज का एग्जाम दिया. स्टूडेंट्स का कहना है कि पेपर ईजी था.

मुस्तैद रहे पर्यवेक्षक

सिटी में फ्म् कॉलेजों को टीईटी का परीक्षा केंद्र बनाया गया था. परीक्षार्थियों की भीड़ सैटरडे सुबह आठ बजे से ही परीक्षा केंद्रों के आसपास दिखने लगी थी. परीक्षा को सकुशल संपन्न कराने के लिए सुरक्षा के भी कड़े प्रबंध किए गए थे. जिला विद्यालय निरीक्षक व जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी समेत कई अधिकारी व्यवस्था का जायजा लेते रहे.

आज भी होगा एग्जाम

सिटी में संडे को भी दस कॉलेजों में एग्जाम होगा. जिला विद्यालय निरीक्षक के मुताबिक दूसरे दिन फ‌र्स्ट मीटिंग में नौ सेंटर्स पर म्,07ख् स्टूडेंट्स और सेकेंड मींटिंग में एक सेंटर पर फ्9ख् स्टूडेंट्स एग्जाम देंगे.

'पेपर ठीक आया था. सोशल साइंस में थोड़ा डर है. वैसे एग्जाम अच्छा हुआ है.'

अमित गुप्ता, मधुनगर

'एग्जाम अच्छा हुआ है. इंगलिश थोड़ी टफ आई थी. पैराग्राफ में प्रॉब्लम हुई है.'

अनीता कुशवाह, शाहगंज

'पेपर इजी था. कोई प्रॉब्लम नहीं हुई. अब रिजल्ट का इंतजार है.'

विवेक शुक्ला, खंदौली

'एसएसटी के प्रश्नों को सॉल्व करने में दिक्कत आई है. वैसे पेपर तो सरल आया था.'

मानवेंद्र राठौर, बल्केश्वर

'बहुत अच्छा पेपर आया था. कोई भी प्रश्न छूटा नहीं है. हिंदी का सेक्शन सरल था.'

राजीव माथुर, कमलानगर