Ugadi 2020: Date उगादि या युगादि आंध्र प्रदेश, तेलंगाना व कर्नाटक में नव वर्ष की शुरुआत का पर्व है। इस दिन नव संवत्‍सर की शुरुआत होती है, जो इस वर्ष 25 मार्च को मनाया जाएगा। सभी साठ संवत्सर एक अलग नाम से पुकारे जाते हैं। इसी दिन महाराष्ट्र में गुड़ी पड़वा का पर्व भी मनाया जाता है।

Ugadi 2020 significance and history

गुड़ी पड़वा के दिन चंद्र- सौर्य कैलेण्डर के मुताबिक मराठी नया साल मनाया जाता है। चंद्र- सौर कैलेण्डर चांद व सूर्य की स्थिति के अनुसार चलता है। वहीं सौर कैलेण्डर में सिर्फ सूरज की स्थिति के हिसाब से महीने व दिन तय किए जाते हैं। बात दें कि हिंदू नया साल यानि कि नव संवत्सर साल में दो बार अलग- अलग नामों से होता है। हिंदू नया साल जो सौर कैलेण्डर के मुताबिक चलता है उसे तमिलनाडू में पुथांडू कहते हैं, असम में बिहू, पंजाब में वैसाखी, ओड़िसा में पना संक्रांति और पश्चिम बंगाल में नब वर्ष के नाम से जाना जाता है।

Ugadi 2020 celebration

दृग पंचांग के अनुसार इस दिन की शुरुआत तेल से नहाने के साथ की जाती है। तेल से नहाने व नीम की पत्तियां खाना इस दिन का अहम हिस्सा है। इसके बाद नवरात्रि की पूजा की जाती है। वहीं उत्‍तर भारत में इस दिन देवी पूजन के पर्व नवरात्रि की शुरुआत होती है और नौ दिनों तक देवी पूजा की जाती है। कई जगह इस दिन नीम और मिश्री को खाना शुभ मानते हैं।

Posted By: Satyendra Kumar Singh