लखनऊ (पीटीआई)। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी (यूपीसीसी) अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू इन दिनों चर्चा में बने हैं। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी (यूपीसीसी) के मीडिया संयोजक लल्लन कुमार ने कहा कि लल्लू को आगरा की एक स्थानीय अदालत ने बुधवार दोपहर 20,000 रुपये के निजी मुचलके पर जमानत दे दी, लेकिन इसके तुरंत बाद, उन्हें लखनऊ पुलिस की एक टीम ने मंगलवार रात हजरतगंज पुलिस स्टेशन में उनके खिलाफ दायर एक दूसरे मामले में गिरफ्तार किया। लखनऊ पुलिस ने बुधवार को दूसरे मामले में लल्लू की गिरफ्तारी की पुष्टि की। कांग्रेस द्वारा राज्य में प्रवेश करने के लिए प्रवासियों के लिए बसों की व्यवस्था की अनुमति नहीं देने के विरोध में लल्लू को पहली बार आगरा में मंगलवार को धरने पर बैठने के लिए गिरफ्तार किया गया था।


फतेहपुर सीकर पुलिस स्टेशन में महामारी अधिनियम के तहत मामला दर्ज

इस मामले में अजय कुमार लल्लू के खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं और फतेहपुर सीकर पुलिस स्टेशन में महामारी अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। आगरा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार ने कहा था कि अजय कुमार लल्लू को मंगलवार शाम को गिरफ्तार किया गया था, और उन्हें अन्य कांग्रेस नेताओं के साथ पुलिस लाइंस में रखा गया था। मंगलवार रात लल्लू और संदीप सिंह के खिलाफ एक और एफआईआर, जो कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के निजी सचिव हैं, और अन्य को धोखाधड़ी और जाली दस्तावेजों से संबंधित भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत लखनऊ के हजरतगंज पुलिस स्टेशन में दर्ज की गई थी।

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk

inext-banner
inext-banner