-मई माह में 15 दिनों में हो चुकी 26 एक्सीडेंट

-रोजाना हादसों में एक शख्स की हो रही मौत

बरेली-लॉकडाउन में छूट मिलने की वजह से सड़कों पर वाहनों की रफ्तार लगातार बढ़ती जा रही है। हेवी व्हीकल के अलावा कार और बाइक की संख्या में भी काफी इजाफा हुआ है। यही वजह है कि अब हादसों की संख्या में भी लगातार इजाफा हो रहा है। जहां लॉकडाउन के पहले सप्ताह में कोई भी हादसा नहीं हुआ था जो अब लॉकडाउन 2 और फिर 3 में लगातार बढ़ रहा है। मई माह में 15 दिनों में ही 26 एक्सीडेंट हो चुके हैं और डेली ऐवरेज एक शख्स की जान जा रही है।

2 दिनों में 3 मौत

बरेली में लॉकडाउन से पहले रोजाना औसतन 3 हादसे होते हैं और इन हादसों में 2 दिनों में 3 लोग जान गंवा देते हैं लेकिन जबसे 23 मार्च से लॉकडाउन जारी हुआ तो हादसों पर पूरी तरह से रोक लग गई। लॉकडाउन के पहले सप्ताह में कोई भी हादसा नहीं हुआ लेकिन उसके बाद से हादसों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। जहां अप्रैल में हादसे कुछ बढ़े जो मई में और अधिक बढ़ गए।

अप्रैल में कम एक्सीडेंट

अप्रैल महीने में कुल 22 एक्सीडेंट हुए और सिर्फ 12 लोगों की जान गई और 11 लोग घायल हुए। इससे साफ था कि औसतन 3 दिन में दो ही हादसे हुए लेकिन मई में यह आंकड़ा बढ़ गया। मई माह में 15 दिनों में ही 26 एक्सीडेंट हो गए । इससे साफ है कि अब रोजाना दो हादसे हो रहे हैं जो अप्रैल महीने की तुलना में काफी अधिक है।

हेवी व्हीकल से ज्यादा हादसे

लॉकडाउन में ढील की वजह से हादसों की संख्या बढ़ी लेकिन हादसों में जान जाने की वजह हेवी व्हीकल रहे हैं। मई महीने में हेवी व्हीकल से 5 से अधिक हादसे हुए, जिसमें 5 लोगों की जान गई है। इसमें दो हादसे शहर के सौ फुटा रोड और परसाखेड़ा जीरों प्वाइंट पर ट्रक से हुए। इसी तरह से बड़ा बाईपास पर तेज रफ्तार कार की टक्कर से भी बाइक सवार की जान गई।

1 जनवरी 20 मार्च 2020 तक एक्सीडेंट

162 एक्सीडेंट

64 डेथ

109 इंजर्ड

अप्रैल 2020 में एक्सीडेंट

22 एक्सीडेंट

12 डेथ

11 इंजर्ड

1 से 15 मई 2020 तक एक्सीडेंट

26 एक्सीडेंट

15 डेथ

12 इंजर्ड

वर्ष 2019 में हादसे

1093-एक्सीडेंट

556-डेथ

696-इंजर्ड

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner