छ्वन्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र: झारखंड पब्लिक सर्विस कमीशन (जेपीएससी) की ओर से रविवार को आयोजित सिविल सर्विस की पीटी में इंडियन टेस्ट टीम के कैप्टन विराट कोहली शामिल नहीं हुए. खासमहल स्थित श्यामा प्रसाद इंटर कॉलेज में उनका सेंटर था. जेपीएससी ने भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के नाम का एडमिट कार्ड जारी किया था.

चुस्त दुरुस्त थी सुरक्षा

हालांकि विराट कोहली इन दिनों चेन्नई में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच खेल रहे हैं. उनके आने की संभावना भी लगभग शून्य थी. इसके वाबजूद इस केंद्र पर सुरक्षा-व्यवस्था चुस्त थी. किसी को भी केंद्र के अंदर घुसने की अनुमति नहीं थी. इस केंद्र के कक्ष संख्या-30 में विराट कोहली की सीट थी. उनका रोल नंबर 68053005 था. वीक्षकों के पास मौजूद अटेंडेंस शीट पर भी विराट कोहली की तस्वीर लगी थी, लेकिन कोई शख्स उनकी सीट पर नहीं बैठा. कॉलेज के शिक्षक, वीक्षक तथा दंडाधिकारी इस बात को लेकर सचेत थे कोई उनकी सीट पर न बैठ जाए. जमशेदपुर की बीडीओ पारुल सिंह भी दिशा-निर्देश देती देखी गई. खासकर विराट कोहली के कक्ष की अच्छी तरह से रिकॉर्डिग की गई. जेपीएससी पीटी के लिए शहर में 28 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे.

इस कॉलेज में भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के नाम का अटेंडेंस शीट में था. शीट पर विराट की फोटो थी. शरारती तत्वों ने फेक आइडी के जरिये यह किया होगा.

-रास बिहारी चौबे, दंडाधिकारी, श्यामा प्रसाद इंटर कॉलेज केंद्र, खासमहल.

कैसे बना एडमिट कार्ड, जांच का विषय

फर्जी आईडी के माध्यम से भारतीय टेस्ट क्रिकेट के कप्तान विराट कोहली का एडमिट कार्ड व अटेंडेंस शीट कैसी तैयार हो गई, यह जांच का विषय है. कोई शख्स किसी का भी इस तरह से अगर एडमिट कार्ड बनवा ले और उस पर झारखंड लोक सेवा आयोग के अधिकारी या फिर कर्मचारी की नजर नहीं पड़े तो ऐसे में पूरे सिस्टम पर सवाल खड़ा होता है. अब यह कैसे हुआ, यह तो जांच के बाद ही पता चलेगा. जांच होगा भी या नहीं, यह भविष्य के गर्त में है.

लिट्टे प्रमुख प्रभाकरण के नाम जारी हुआ था लाइसेंस

झारखंड के धनबाद से लिट्टे प्रमुख प्रभाकरण के नाम का ड्राइविंग लाइसेंस जारी किया गया था. इसके अतिरिक्त सिमी आतंकी अबू फैजल के सहयोगी इकरार शेख का ड्राइविंग भी लाइसेंस जमशेदपुर से जारी हुआ था.