बीजिंग (पीटीआई)। चीन के पूर्वी तटीय इलाके में तूफान 'लेकिमा' ने भारी तबाही मचाई है। इस तूफान के चलते कई जगहों पर हुए भूस्खलन से 18 लोगों की मौत हो गई और 14 लापता हैं।  लेकिमा शनिवार सुबह झेजियांग प्रांत के तट से टकराया था। उस वक्त हवाएं 187 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही थीं। मौसम विभाग ने बताया है कि तूफान अब 15 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से उत्तर की ओर बढ़ रहा है। तूफान की आशंका को लेकर चीन में शुक्रवार को ही रेड अलर्ट जारी कर दिया गया था। तूफान और भारी बारिश के कारण पूर्वी चीन में यातायात व्यवस्था ठप हो गई है। शानदोंग प्रांत के जिनान शहर में सोमवार तक 200 ट्रेन रद कर दी गई हैं। इसके अलावा शंघाई का डिजनी लैंड भी बंद कर दिया गया है।

'मैथ्यू' ने हैती में मचाया तूफान, जानें कैसे पड़ते हैं चक्रवातों के नाम

लाखों लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया

बता दें कि शंघाई में ढाई लाख और जेजियांग प्रांत में आठ लाख लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है। तटीय शहर वेंझू में लगातार तीन घंटों तक हुई भारी बारिश के कारण एक बांध के ढहने की खबर है। जेजियांग में दो लाख से ज्यादा घरों में बिजली नहीं है। मौसम विभाग ने ताइवान, फुजियान, झेजियांग, शंघाई और जिआंगसु सहित कई जगहों पर तेज हवा चलने की संभावना जताई है और इसको लेकर रेड अलर्ट भी जारी किया है। इस तूफान के चलते 200 इमारतें ध्वस्त हो गई हैं और अन्य 3,200 क्षतिग्रस्त हो गए हैं। शुक्रवार से 4,000 से अधिक फ्लाइटों को रद कर दिया गया है।

Posted By: Mukul Kumar

International News inextlive from World News Desk