कानपुर (फीचर डेस्क)। अश्वनी कुमार टिक टाॅक पर काफी फेमस था। इस हत्या से पहले उसने 'टिक टॉक' ऐप पर कबीर सिंह का एक डायलॉग लिखा था, 'जो मेरा नहीं हो सका उसे किसी और का होने का मौका नहीं दूंगा'। इसके बाद उसने लड़की का खून कर दिया। अश्वनी ने जिस लड़की की हत्या की उसका नाम निकिता शर्मा था, जो एक फ्लाइट अटेंड थी।

'हम अपने काम को लेकर जिम्मेदार हैं'

इस मामले के बाद कबीर सिंह पर फिर से सवाल उठने लगे हैं, जिस पर इस मूवी के डायरेक्टर संदीप वंगा का रिएक्शन आया है। संदीप ने कहा, 'मैं उस लड़की और उसकी फैमिली के लिए बहुत सॉरी फील करता हूं। यह बहुत दुख की बता है कि लोगों की जानें गई हैं। एक फिल्ममेकर होने के नाते हम अपने काम के जिम्मेदार हैं और हमें इस पर सोचने करने की जरूरत है पर मेरी फिल्में कभी किसी की हत्या को एंडोर्स नहीं करती हैं। कबीर सिंह और अर्जुन रेड्डी ने हत्या को सपोर्ट नहीं किया है।'

करीना को नहीं भायी 'कबीर सिंह' बने शाहिद की महबूबा

सिरफिरा खुद को बताता था विलेन

इस केस में एक और हैरान करने वाली बात यह है कि अश्वनी ने खुद को भी गोली मार ली। दरअसल, अश्विन कुमार 'टिक टॉक' पर 'जॉनी दादा' के नाम से जाना जाता था। वह इस प्लेटफॉर्म पर खुद को विलेन बताता था। उस सिरफिरे ने निकिता को कई साल पहले प्रपोज किया था, जहां उसे रिजेक्शन मिला, जिसके बाद उसने निकिता की हत्या कर दी। निकिता से पहले वह दो और लोगों की हत्याएं कर चुका था। जब पुलिस उसे पकडने पहुंची तो उसने खुद को गोली मार ली।

features@inext.co.in

'कबीर सिंह' के रोल को लेकर शाहिद बोले, स्क्रीन पर ऑडियंस देखना चाहती है सच

Posted By: Vandana Sharma

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk