JAMSHEDPUR: गोलमुरी स्थित अब्दुल बारी मेमोरियल (एबीएम) कॉलेज ने पहली बार ही राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद (नैक) के निरीक्षण में बी ग्रेड हासिल कर दिखाया है. सोमवार को हुई यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन (यूजीसी) की बैठक में कॉलेज को नैक निरीक्षण में बी ग्रेड जारी कर दिया गया है. गत 19 व 20 जून को सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ अमरकंटक के कुलपति सह नई शिक्षा प्रारूप समिति के सदस्य प्रो. टीवी कटिमन्नी की अध्यक्षता वाली चार सदस्यीय नैक टीम ने कॉलेज का निरीक्षण किया. सात बिंदुओं पर हुए इस निरीक्षण में एबीएम को 2.19 सीजीपीए प्राप्त हुआ है.

दिख रहे हैं सुधार

वर्तमान प्राचार्य डॉ. मुदिता चंद्रा के डेढ़ साल के कार्यकाल में एबीएम कॉलेज में कई गुणात्मक सुधार दिख रहे हैं. उनके ही कार्यकाल में एबीएम के इतिहास में पहली बार नैक का निरीक्षण हुआ है. खुद नैक टीम ने कहा था कि ऐसे ही प्रशासक से कॉलेज का माहौल बदलता है.

बी ग्रेड मिलने से एबीएम को राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान (रूसा) के द्वारा मिलने वाले कॉलेज विकास फंड का रास्ता खुल गया है. अब कॉलेज की ओर से भेजे जाने वाले योजना प्रस्तावों के लिए रूसा की ओर से फंड जारी किया जाएगा, जिससे आगामी दिनों कॉलेज का बदला हुआ स्वरूप देखने का मिलेगा.

विज्ञान की पढ़ाई शुरू होगी

नैक की बी ग्रेडिंग मिलने से एबीएम में विज्ञान की पढ़ाई शुरू होगी. जल्द ही कॉलेज की ओर से विज्ञान संकाय शुरू करने का प्रस्ताव एचआरडी, यूजीसी और कोल्हान विश्वविद्यालय की कुलपति को भेजा जा सकता है. कॉलेज के प्रदर्शन को देखते हुए विज्ञान संकाय शुरू करने की अनुमति आसानी से मिल सकती है. प्राचार्य मुदिता चंद्रा ने कहा कि एबीएम कॉलेज के प्रथम बार में ही नैक का बी ग्रेड हासिल करना काफी गौरवपूर्ण है. अब कॉलेज को रूसा से मिलने वाले अनुदान का रास्ता साफ हो गया है. ऐसे में आगामी दिनों में कॉलेज में तेजी से विकास दिखेगा. जिससे लोगों में कॉलेज के प्रति विस्वास बढ़ेगा और विद्यार्थियों को बेहतर शिक्षा मिलेगी.