- ग्यारह डिपार्टमेंट में एक डायरेक्टर 30 असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती

- प्लेन पेपर पर अप्लाई करने के साथ नियत डेट पर देना होगा इंटरव्यू

Meerut: सीसीएस यूनिवर्सिटी में लंबे समय से प्रोफेसर्स के लिए भर्तियां नहीं हुई. काफी समय से कांट्रेक्ट बेस असिस्टेंट प्रोफेसर ही यूनिवर्सिटी के कई डिपार्टमेंट्स को संभाल रहे हैं. एक बार फिर यूनिवर्सिटी ने डिपार्टमेंट्स में खाली पड़ी असिस्टेंट प्रोफेसर की सीटों पर कांट्रेक्ट बेस भर्तियां निकाली हैं. जिसके लिए प्लेन पेपर पर डीडी के साथ आवेदन मांगे हैं. कैंडीडेट्स को आवेदन के बाद नियत डेट पर सब्जेक्ट वाइज इंटरव्यू के लिए बुलाया गया है. इन भर्तियों के साथ डिपार्टमेंट को कुछ राहत मिलेगी.

एक डायरेक्टर सात असिस्टेंट प्रोफेसर

यूनिवर्सिटी के इंस्टीट्यूट ऑफ लीगल स्टडीज में एक डायरेक्टर, सात असिस्टेंट प्रोफेसर और एक असिस्टेंट लाइब्रेरियन के लिए एप्लीकेशन मांगी गई हैं. यह एप्लीकेशन एक प्लेन पेपर पर लिखकर अपने अटेस्टेड डॉक्यूमेंट्स के साथ यूनिवर्सिटी को भेजनी होगी. साथ ही अनरिज‌र्व्ड व ओबीसी कैंडीडेट्स को पांच सौ रुपए और एससी, एसटी के लिए तीन सौ रुपए का ड्राफ्ट फाइनेंस ऑफिसर सीसीएस यूनिवर्सिटी के नाम देना होगा. यह अपोइंटमेंट कांट्रेक्ट बेस एक नियत समय के लिए होंगे. कैंडीडेट्स को अपनी एप्लीकेशन ख्म् सितंबर तक यूनिवर्सिटी भेजनी होगी.

दस डिपार्टमेंट ख्फ् वैकेंसी

इसी क्रम में यूनिवर्सिटी के दस डिपार्टमेंट्स में ख्फ् असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए आवेदन मांगे गए हैं. जेनेटिक्स एंड प्लांट ब्रीडिंग में तीन, हिंदी में तीन, एजुकेशन में तीन, केमिस्ट्री में तीन, मैथमेटिक्स में तीन, जूलॉजी में तीन, स्टेटिस्टिक्स में दो और होर्टिकल्चर, सोशियोलॉजी, व माइक्रोबायलॉजी में एक-एक एप्लीकेशन मांगी गई है. इसके साथ ही इसी क्रम में ख्ख् सितंबर से ख्म् सितंबर तक इंटरव्यू डेट रखी गई है. इंटरव्यू के लिए कैंडीडेट्स को यूनिवर्सिटी के एडमिनिस्ट्रेशन ब्लॉक स्थित कमेटी हॉल में तीन बजे उपस्थित होना होगा.

ये होगी क्वालिफिकेशन

कैंडीडेट्स से एग्रीकल्चर, आ‌र्ट्स, ह्यूमेनिटीज, साइंस, सोशल साइंस, कॉमर्स, लैंग्वेज, लॉ और जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन में असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए मिनिमम क्वालिफिकेशन रखी है, जिसमें कैंडीडेट्स गुड एकेडमिक रिकार्ड के साथ संबंधित सब्जेक्ट्स की मास्टर डिग्री में कम से कम भ्भ् फीसदी मा‌र्क्स पाया हो. उसकी डिग्री रिलेवेंट सब्जेक्ट्स में इंडियन यूनिवर्सिटी या फिर फॉरेन यूनिवर्सिटी की हो. इसके अलावा उसने यूजीसी व सीएसआईपी द्वारा कंडक्ट कराए गई नेट परीक्षा क्वालिफाई की हो. इसके साथ स्लेट, सेट का एग्जाम क्वालिफाई किया हो. पीएचडी डिग्री हो, कॉलेज या संस्थान में पढ़ाने का एक्सपीरियंस हो. नेट, स्लेट, सेट की रिक्वायरमेंट केवल उन्हीं सब्जेक्ट्स में मांगी गई है, जिनके लिए यह परीक्षा कंडक्ट होती है.