कार्य में शिथिलता पर कार्रवाई का निर्देश, लगातार आ रही शिकायतों पर शासन सख्त

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: विभिन्न जिलों में तैनात खंड शिक्षा अधिकारियों द्वारा ब्लाक स्तर पर स्कूलों के निरीक्षण और कार्यशैली में अनियमितताओं की लगातार मिल रही शिकायतों पर शासन की सख्ती दिखने लगी है. शासन की ओर से सभी जिलों के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वे अपने जिले में तैनात खंड शिक्षा अधिकारियों की कार्यशैली की कड़ाई से मॉनिटरिंग करें. किसी भी प्रकार की अनियमितता पर संबंधित खंड शिक्षा अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें. इससे परिषदीय स्कूलों की स्थिति में सुधार के साथ मनमानी करने वाले टीचर्स अंकुश लगेगा.

अवकाश स्वीकृति बिना भुगतान

शासन में खंड शिक्षा अधिकारियों की लापरवाही और अनियमितता की लगातार शिकायतों में मुख्य रूप से स्कूलों में तैनात टीचर्स की सेवा अभिलेखों एवं उनकी विद्यालयों में प्रत्येक माह की भौतिक उपस्थित का मिलान कर वेतन भुगतान की कार्यवाही नियमानुसार नहीं की जा रही है. इसके साथ ही विभिन्न ब्लाकों में बिना मान्यता के संचालित हो रहे स्कूलों पर कार्रवाई न करने, मान्यता के लिए आवेदन करने वाले शासनादेश में निर्धारित मानक के अनुरूप जांच आख्या लगी है, लेकिन स्थलीय निरीक्षण में विपरीत स्थितियां मिल रही हैं.

अंकित नहीं किए जा रहे चिकित्सकीय अवकाश

टीचर्स की सेवा पंजिका, उपस्थिति पंजिका, लॉग बुक एवं वेतन बिल पंजिका का मिलान करने पर पता चल रहा है कि चिकित्सकीय अवकाश पर होने के बाद भी अवकाश स्वीकृत किए बगैर पूरे माह का वेतन भुगतान किया जा रहा है. चिकित्सकीय अवकाशों को उनकी सेवा पंजिका में भी अंकित नहीं किया जा रहा है. यही नहीं अवैतनिक अवकाश पर होने के बाद भी टीचर्स के वेतन का पूरा भुगतान किया जा रहा है.