रांची : रांची के चुटिया में लव जेहाद की पीडि़त छात्रा को पुलिस व परिजन ने मिलकर ढूंढ निकाला है. लड़की कोलकाता में आरोपित जिशान उर्फ जिशु के घर पहुंच गई है. उसे लाने के लिए परिजन व पुलिस की टीम कोलकाता रवाना हो गई है. फोन पर भी लड़की से परिजनों की बातचीत हुई है, जिसमें उसने अपहरण की बात से इंकार किया है और कहा है कि वह अपनी मर्जी से कोलकाता गई है.

केरल में रहता है आरोपी

अपहरण, धर्म परिवर्तन, दुष्कर्म व ब्लैकमेल का आरोपित जिशान कोलकाता के प्रिंस रहीमुद्दीन लेन निवासी मोहम्मद निजामुद्दीन का पुत्र है और वर्तमान में केरल में रहता है. उसका अंतिम लोकेशन 31 अगस्त को केरल आया था. इसके बाद से उसका मोबाइल बंद है. पुलिस का कहना है कि छात्रा को रांची लाया जाएगा. रांची आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी कि माजरा क्या है. फिलहाल, प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस पूरे मामले की पड़ताल में जुटी है.

अपहरण का मामला

छात्रा के पिता ने शनिवार (31 अगस्त) को चुटिया थाने में छात्रा के अपहरण, धर्म परिवर्तन, दुष्कर्म व ब्लैकमेल की शिकायत की थी. उनका आरोप था कि छात्रा 29 अगस्त को लापता हो गई. जब उन्होंने छानबीन की तो पता चला कि छात्रा की सहेली आलिया नेयाज, सहेली के पिता मोहम्मद नेयाजुद्दीन उर्फ बाबू भाई व सहेली के चचेरे भाई जिशान उर्फ जिशु ने उसका इस्लाम धर्म के प्रति ब्रेन वाश करते हुए जाकिर नाइक का वीडियो दिखाया. यही कारण है कि वह घर में भी विगत छह महीने से जाकिर नाइक का वीडियो देखती थी. उसने पूजा-पाठ छोड़ दिया था और प्रसाद तक नहीं खाती थी. हर वक्त वह खोई-खोई रहती थी. इस बीच 29 अगस्त को वह अचानक गायब हो गई.

ब्लैकमेल का आरोप

छात्रा के पिता ने यह भी आशंका जताई कि उनकी बेटी से दुष्कर्म किया गया और उसका वीडियो बनाया गया. उसे वीडियो दिखाकर ब्लैकमेल किया गया होगा, जिससे वह उनके चंगुल में फंसी है. फिलहाल, छात्रा के लौटने के बाद ही पूरी स्थिति स्पष्ट होगी.

ranchi@inext.co.in