-बसंत विहार बाबा नगर में 1,000 घरों में जल निगम ने दिया था कनेक्शन, अभी नहीं हुई वाटर सप्लाई

-आईजीआरएस में 2017 में रजिस्टर्ड की गई थी कंप्लेन, बावजूद इसके अभी तक नहीं हो सका काम

kanpur@inext.co.in

KANPUR : शहर में कुछ मामले ऐसे हैं जो लापरवाह सिस्टम की नजीर बन जाते हैं. ऐसा ही एक मामला जल निगम का सामने आया है. बसंत विहार बाबा नगर, एसडब्ल्यू-2, चतुर्वेदी बिल्डिंग रोड और सूरदास पार्क वाली गली में 2 साल पहले लोगों ने वाटर कनेक्शन लिया, टेस्टिंग भी हुई, लेकिन आज तक उन लाइनों में पानी नहीं आया. करीब 1,000 से ज्यादा घर पानी के इंतजार में हैं.

सिस्टम अपने हिसाब से चलेगा

बाबा नगर के निवासियों ने ईयर 2017 में आईजीआरएस में मामला रजिस्टर कराया था. लेकिन 2 साल बीत जाने के बाद विभाग रिपोर्ट में कभी लाइन डालने तो कभी लीकेज होने की बात कह रहा है. जल निगम की 4 जनवरी 19 की रिपोर्ट के मुताबिक लीकेज बताया गया, लेकिन 5 महीने बीत जाने के बाद भी वह नहीं बना. पानी के लिए बाबा नगर के हर घर में सबमर्सिबल पंप लगा है. यही यहां के लोगों का सबसे बड़ा सहारा है.

---------------------------------------

''नगर निगम द्वारा रोड कटिंग की परमीशन न देने से पूरी योजना पर ग्रहण लग चुका है. छोटे-छोटे लीकेज होने से लाइनों में कनेक्शन नहीं हो सके हैं. इसकी वजह से 14 जेडपीएस चालू ही नहीं किए जा सके हैं. ''

शमीम अख्तर, परियोजना प्रबंधक, जल निगम

----------------------------------------

जेएनएनयूआरएम योजना: एक नजर में

- 475 करोड़ से लाइन डालना शुरू किया गया.

- 1,030 किमी. वाटर लाइन डाली जानी थी.

- 957 किमी. लाइन डाली जा चुकी है.

- 63 किमी. मेन फीडर लाइन डाली जा चुकी है.

- 38 जेडपीएस में से पानी की कोई सप्लाई नहीं.

- 24 जेडपीएस ही अब तक चालू किए जा सके हैं.