नई दिल्ली (पीटीआई)भारत की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि कोरोना लॉकडाउन के प्रभाव से निपटने के लिए आर्थिक प्रोत्साहन को अंतिम रूप दिया गया है। उन्होंने कहा, 'कोरोना वायरस से लड़ाई करने वाले डॉक्टरों, पैरामेडिक, हेल्थकेयर वर्कर्स के लिए प्रति व्यक्ति 50 लाख रुपये का बीमा कवर की पेशकश की गई है। वहीं, 80 करोड़ गरीब लोगों को अगले तीन महीने तक हर महीने 5 किलो गेहूं या चावल और 1 किलो पसंदीदा दालें मुफ्त में मिलेंगी।' इसके अलावा, प्रेस कांफ्रेंस के दौरान वित्त मंत्री ने जरूरतमंदों की मदद के लिए 1.70 लाख करोड़ रुपए की प्रधानमंत्री ग्रामीण कल्याण योजना की भी घोषणा की।

महिलाओं को हर महीने मिलेगा 500 रुपये

वित्त मंत्री ने कहा कि जन धन खाता रखने वाली 20.5 करोड़ महिलाओं को घर चलाने के लिए अगले तीन महीनों तक 500 रुपये प्रति माह दिया जाएगा। वहीं, गरीब बुजुर्ग नागरिकों, विधवा और विकलांगों को 1,000 रुपये मिलेगा। साथ ही, मनरेगा के तहत दैनिक मजदूरी को बढ़ाकर 5 करोड़ श्रमिकों को लाभ पहुंचाने के लिए 182 रुपये प्रतिदिन से बढ़ाकर 202 रुपये कर दिया गया है। इसके अलावा, मंत्री ने आगे कहा कि सरकार मौजूदा पीएम किसान योजना के तहत अप्रैल के पहले सप्ताह में 8.69 करोड़ किसानों को लाभान्वित करने के लिए 2,000 रुपये का भुगतान करेगी। सीतारमण ने कहा कि उज्ज्वला रसोई गैस योजना के लाभार्थियों को अगले तीन महीने तक मुफ्त रसोई गैस मिलेगी, इससे 8.3 करोड़ बीपीएल परिवार को फायदा होगा। इसके अलावा सभी कंपनी में 15000 रुपये सैलरी पाने वाले 90 प्रतिशत कर्मचारियों का पीएफ तीन महीने तक सरकार भरेगी।

Posted By: Mukul Kumar

Business News inextlive from Business News Desk