बीजिंग (रायटर)। चीन में कोरोनोवायरस के चलते से मरने वालों की संख्या बढ़कर 811 हो गई है, जो कि 2002/2003 में सार्स डिसीज से ग्लोबली मारे गए लोगों की संख्या से कहीं ज्यादा है। इसके चलते चीन में लूनर न्यू इयर के ब्रेक के बाद काम पर लौटने की तैयारी कर रहे लोगों में काफी उहापोह की स्थिति बन गई है। बीमारीको फैलने से रोकने के लिए, अधिकारियों ने बिजनेस हाउसेज को ये छुट्टियां 10 अतिरिक्त दिनों तक बढ़ाने के लिए कहा था, परंतु ये अवधि खत्म होने के बाद भी हालात में कुछ खास अंतर नहीं पड़ा है। मृतकों और संक्रमित रोगियों की की बढ़ती संख्या की वजह से कई शहर पिछले दो हफ्तों के दौरान लगभग भूतों के शहर बन गए हैं। कम्युनिस्ट पार्टी के शासन ने देश में एक तरह से वर्च्युअल लॉकडाउन के तहत उड़ानों को रद्द कर दिया है, कारखानों को बंद और स्कूलों को बंद रखा है।

coronavirus मृतकों की संख्या 800 के पार,सार्स महामारी से भी ज्यादा असर

अर्थव्यवस्था पर असर
इन हालात के चलते अंतरराष्ट्रीय फाइनेंसेज पर भी असर पड़ा है, क्योंकि शेयरों में गिरावट आई है और इन्वेस्टरर्स ने सोने, बांड और जापानी येन जैसे सुरक्षित माध्यमों पर स्विच किया है। सोमवार को भी, बड़ी संख्या में ऑफिसेज बंद रहेंगे और कई इंप्लाइज घर से काम करेंगे। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के आंकड़ों से पता चलता है कि शनिवार को भी हुई मौतों के बाद89 पर पर पहुंची गिनती ने एक और रिकॉर्ड बना दिया है। कोरोनावायरस से हुई मौतों में से 81 चीन के मध्य हुबेई प्रांत में हुईं, यहां वायरस ने सर्वाधिक लोगों को संक्रमित किया है।

अन्य देशों में भी पहुंचा रोग
आधिकारिक रिपोर्टों के आधार पर, रायटर की गिनती के अनुसार, वायरस 27 देशों और क्षेत्रों में फैल गया है।हांगकांग और फिलीपींस में चीन की मुख्य भूमि के बाहर दो मौतें हुई हैं। हांलाकि दोनों पीड़ित चीनी नागरिक थे। चीन शासित हॉन्गकॉन्ग में भी वायरस का असर देखने को मिला। यूरोप, यूनाइटेड स्टेटस और एशिया में करोनावायरस को लेकर पहले ही अलर्ट जारी कर दिया गया है। फ्रांस ने अपने नागरिकों के लिए हवाई यात्रा के लिए एडवाइजरी जारी करते हुए कहा कि उचीन की यात्रा करने की सिफारिश तब तक नहीं दी जायेगी जब तक कि कोई "अनिवार्य" कारण नहीं बताया जाए। इटली ने चीन से यात्रा करने वाले बच्चों को स्वेच्छा से दो सप्ताह तक स्कूल से दूर रहने के लिए कहा, वहीं जापान में एक क्रूज जहाज से 64 संक्रमित लोगों की पुष्टि की गई है। सिंगापुर के छोटे से द्वीप-राज्य में कोरोनावायरस के 40 मामले दर्ज किए हैं। शुक्रवार को, सिंगापुर सरकार ने वायरस पर अपने अपने रिस्पांस लेवल को ऑरेंज कर दिया है, ऐसा 2009 में सार्स और एच 1 एन1 इन्फ्लूएंजा के इफेक्ट के दौरान भी किया गया था।

Posted By: Molly Seth

International News inextlive from World News Desk