देहरादून: दून में किटी के नाम पर ठगी का जाल फैला है. कोतवाली क्षेत्र में किटी के नाम पर 3 करोड़ की ठगी का मामला फिर सामने आया है. कौलागढ़ कैंट निवासी राजीव मिश्रा ने पुलिस को तहरीर दी कि राजा रोड पर संजीव हार्डवेयर की दुकान चलाने वाले संजीव गिरोटी और जगदीश गिरोटी ने शहर के 40 से ज्यादा लोगों से 21-21 हजार रुपये प्रति माह किटी कमेटी के नाम पर जमा कराए. आरोपितों ने गीता धवन नाम की महिला को भी शामिल किया और उसे लोगों को किटी से जोड़ने का जिम्मा सौंपा. आरोप है कि हर माह किटी की रकम लेने के बाद किसी को भी पैसा वापस नहीं किया गया. रकम वापस मांगने गए लोगों को आरोपितों ने रकम देने से साफ इनकार कर दिया. आरोप है कि पैसा वापस मांगने पर लोगों को धमकाया गया. जब बड़ी संख्या में लोग रकम वापस करने का दबाव बनाने लगे तो आरोपी संजीव दून छोड़कर फरार हो गया. कई दिनों से उसका फोन भी स्विच ऑफ है. शहर कोतवाल शिशुपाल नेगी ने बताया कि तहरीर मिलने पर 3 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है. पीडि़तों से रकम जमा करने समेत अन्य दस्तावेज मांगे गए हैं.

हर तहरीर पर दर्ज हो मुकदमा

शहर में किटी पार्टी के नाम पर हजारों की संख्या में लोगों के साथ ठगी हुई है. इस मामले में मोटी रकम गवांने के बाद लोग पुलिस थानों के चक्कर काट रहे हैं. शनिवार को कुछ महिलाओं ने डीजीपी लॉ एंड ऑर्डर अशोक कुमार से मुलाकात की. महिलाओं ने कहा कि पुलिस इस मामले में एक ही मुकदमा दर्ज कर रही है. जबकि पीडि़तों की संख्या हजारों में है. डीजी ने सभी थानों को निर्देश दिए कि हर तहरीर पर आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किए जाएं.