- हेल्थ डिपार्टमेंट नौकरी दिलवाने के नाम पर छह लाख रुपये वसूले

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : हेल्थ डिपार्टमेंट में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगों ने युवक, उसकी मंगेतर और साले से कंपनी के एमडी के साथ मिलकर 6 लाख ठग लिए. इन लोगों ने पीडि़तों को ऑफर लेटर दे जल्द नियुक्ति पत्र देने का वादा किया. जब पैसे देने के बाद भी नियुक्ति पत्र नहीं मिला तो पीडि़तों ने अपनी रकम जब वापस मांगी तो उन्हें जान से मारने की धमकी दी गई. एसएसपी के आदेश पर विभूतिखंड पुलिस ने कंपनी के एमडी समेत दो नामजद लोगों पर एफआईआर दर्ज की है.

वार्ड ब्वॉय बनाने का झांसा
इंस्पेक्टर डीके उपाध्याय ने बताया कि कानपुर के बर्रा निवासी गोविंद सिंह पाल ने बताया कि जनवरी में उसे लखनऊ के विभूतिखंड स्थित एक कंपनी के बारे में जानकारी हुई. वे ओमेक्स हाइट्स टॉवर नंबर11 स्थित गार इंफ्रा कंपनी पहुंचा. कंपनी के एमडी गिरीश वर्मा ने बातचीत में हेल्थ डिपार्टमेंट में वार्ड ब्वॉय की नौकरी दिलाने की बात की.

एक हाथ लेटर दूसरे हाथ कैश
एमडी ने उसे बताया कि प्रति व्यक्ति 3 लाख रुपये खर्च होंगे. दो लाख रुपये ऑफर लेटर के समय और शेष एक लाख नियुक्ति पत्र के बाद. गोविंद ने मंगेतर कोमल व उसके भाई जीतेन्द्र से इसकी बात की. 8 फरवरी को गोविंद को कंपनी ने ऑफर लेटर दिया तो उन्होंने दो लाख रुपये का भुगतान कर दिया.

मंगेतर और साले ने भी दिए कैश
13 फरवरी को कंपनी ने कोमल व जीतेन्द्र के नाम से ऑफर लेटर दिया तो उन्होंने भी चार लाख रुपये दे दिए. तीनों को एमडी गिरीश वर्मा ने 5 मार्च को नियुक्ति पत्र देने की बात कही. तय तारीख पर पीडि़तों ने संपर्क किया तो उन्हें टाल दिया गया. कई माह तक कंपनी एमडी व कर्मचारी आश्वासन देते रहे.

एसएसपी से सुनाया दर्द
ठगी का एहसास होने पर पीडि़तों ने अपनी रकम वापस मांगी तो ऑफिस में मौजूद गिरीश वर्मा, कृष्णा यादव समेत कुछ अन्य लोगों ने गाली गलौज कर भगा दिया. पीडि़तों ने एसएसपी कलानिधि नैथानी से मुलाकात कर शिकायत कर एसएसपी को ऑफर लेटर भी दिखाए. एसएसपी के आदेश पर विभूतिखंड पुलिस ने मंगलवार को एमडी गिरीश वर्मा, कृष्णानगर व तीन चार अज्ञात लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी, अमानत में खयानत, गाली गलौज व जान से मारने की धमकी की रिपोर्ट दर्ज की है.