- कोतवाली एरिया में पुलिस की जांच में मिली कामयाबी

- कार में दो लाख रुपए का गांजा लेकर बेचने जा रहे थे तस्कर

GORAKHPUR: शहर के भीतर गांजा का अवैध कारोबार लग्जरी कार से हो रहा था. गुरुवार की रात बक्शीपुर चौराहे पर वाहन चेकिंग के दौरान कार सवार तीन लोगों को अरेस्ट करके पुलिस ने दो लाख रुपए का गांजा बरामद किया. असम से गांजा लेकर तस्कर शहर और आसपास के एरिया में खपा रहे थे. एसपी क्राइम ने बताया कि इस गैंग से जुड़े अन्य लोगों की तलाश चल रही है. पूर्व में खलीलाबाद में हुई कार्रवाई में भी कुछ लोग पकड़े गए थे.

जाम में फंसी कार, पुलिस ने धर दबोचा

गुरुवार की रात कोतवाली पुलिस की टीम बक्शीपुर चौराहे पर चेकिंग कर रही थी. करीब आठ बजे पुलिस ने एक सफेद कार को रोका. जांच के लिए रोकने पर ड्राइवर ने रफ्तार तेज कर दी. प्रभारी कोतवाल संजीव कुमार, दरोगा बलराम त्रिपाठी, अवधेश कुमार मिश्र और अन्य पुलिस कर्मचारियों ने कार का पीछा कर लिया. इस दौरान कार आगे जाकर जाम में फंस गई. पुलिस ने कार सवार लोगों को काबू करके तलाशी ली तो भीतर रखा साढ़े 16 किलोग्राम गांजा बरामद हुआ.

डिमांड के अनुसार देते थे सप्लाई

पकड़े गए लोगों की पहचान शाहपुर, आजाद नगर बिछिया मोहल्ला निवासी राजू जायसवाल, सहजनवां क्षेत्र के घघसरा के अलगपुर निवासी अजीत सिंह और देवरिया जिले के कोतवाली क्षेत्र के सिंधी मिल कॉलोनी के रहने वाले अशोक कुमार जायसवाल के रूप में हुई. तीनों ने पुलिस को बताया कि पकड़ा गया गांजा करीब दो लाख रुपए कीमत का है. शहर में डिमांड के अनुसार सप्लाई दी जाती है. एसपी क्राइम ने बताया कि खलीलाबाद में पुलिस ने एक टैंकर बरामद किया गया था. उस समय तीनों तस्कर फरार हो गए थे.

वर्जन

शहर में गांजा तस्करी करने वाले गैंग की सूचना मिल रही थी. इस आधार पर पुलिस टीम जांच पड़ताल में जुटी थी. चेकिंग के दौरान गांजा के साथ तस्करों की गिरफ्तारी की गई.

अशोक कुमार वर्मा, एसपी क्राइम