अंग्रेजी मीडियम स्कूल बनाएगा बेसिक शिक्षा विभाग

हर खंड में बनेंगे 5 स्कूल, प्राइमरी के शिक्षक ही पढ़ाएंगे अंग्रेजी

Meerut. कांवेंट स्कूलों की तर्ज पर बेसिक शिक्षा विभाग भी इंग्लिश मीडियम स्कूल तैयार करवाएगा. योजना के तहत हर खंड में ऐसे 5-5 स्कूल बनेंगे. नए सत्र यानि अप्रैल तक इन स्कूलों में दाखिला प्रक्रिया चालू कर दी जाएगी.

ऐसे बनेगी व्यवस्था

12 ब्लाकों में 5-5 स्कूल यानि कुल 60 स्कूल होंगे तैयार

5 फरवरी तक स्कूलों की चयन प्रक्रिया पूर्ण

28 फरवरी तक शिक्षकों का चयन

5 मार्च से 16 मार्च तक प्रशिक्षण व संचालन प्रक्रिया होगी पूर्ण

6 मार्च से 12 मार्च तक स्कूलों का नाम परिवर्तन व प्रचार-प्रसार

9 मार्च से 23 मार्च तक होगी शिक्षकों की तैनाती

1 अप्रैल से होगा स्कूलों में प्रवेश

यह है स्थिति

टीचर्स का चयन परिषदीय विद्यालयों में तैनात शिक्षकों में से ही किया जाएगा.

नगर में तैनात शिक्षक की तैनाती नगर क्षेत्र में व ग्रामीण क्षेत्र के शिक्षक की तैनाती ग्रामीण क्षेत्र में होगी.

12वीं तक इंग्लिश मीडियम में पढ़ाई करने वाले शिक्षक ही होंगे चयनित.

शिक्षकों और प्रधानाध्यापकों के चयन के लिए समिति गठित की जाएगी.

डायट प्राचार्य होंगे अध्यक्ष व जीआईसी में इंग्लिश लेक्चरार, सब्जेक्ट एक्सपर्ट और बीएसए होंगे सदस्य.

कक्षा 1 से 3 तक के स्टूडेंट्स को इंग्लिश मीडियम में ही पढ़ाया जाएगा.

कक्षा 4 व 5 में अंग्रेजी और हिंदी दोनों माध्यमों से पढ़ाया जाएगा.

चयन समिति की ओर से प्रधानाध्यापक और शिक्षकों के चयन के लिए परीक्षा कराई जाएगी.

लिखित और पसर्नेलिटी टेस्ट के लिए 50-50 अंक की परीक्षा होगी.

हर स्कूल में एक प्रधानाध्यापक सहित 5 शिक्षकों की तैनाती होगी.

एक क्लास के लिए एक शिक्षक होगा तैनात.

एक क्लास में 40 बच्चों को मिलेगा एडमिशन.

हर ब्लॉक में ऐसे स्कूलों को चिंहित किए जाने की प्रक्रिया चल रही है. जिन बच्चों को निजी स्कूलों में दाखिला नहीं मिल पाता, उन बच्चों को यहां नि:शुल्क शिक्षा दी जाएगी.

तेजिंद्र, डीसी ट्रेनिंग, बेसिक शिक्षा विभाग कार्यालय