VARANASI: प्रख्यात समाजवादी राजनारायण के पौत्र धर्मेद्र सिंह अपने बाबा के बातों से प्रभावित हुए और कनाड़ा से नौकरी छोड़ कर वापस आ गये. मजदूर एवं गरीबों को समता के आधार पर संपन्नता दिलाने के लिए लड़ रहे नरेन्द्र मोदी के विचारों का अपने बाबा के विचारों में गहरी समानता देखी और बीजेपी की सदस्यता ग्रहण कर ली और आज मोदी के प्रचार अभियान का एक मुख्य अंग है. मंगलवार को धर्मेंद्र सिंह ने काशी राजपरिवार के धरमरी प्रसाद नारायण सिंह से आशीर्वाद ग्रहण किया. इस अवसर पर आलोक सिंह, शिवेन्दु नारायण प्रताप सिंह, जितेन्द्र राय, अनिल राय आदि लोग उपस्थित थे.