-पटना के आसमान पर बादल छाये रहेंगे, हो सकती है बारिश

-अधिकतम और न्यूनतम तापमान में अंतर घटा, बढ़ी उमस

patna@inext.co.in

PATNA: बीते दो दिनों से मौसम में गजब की उमस और बेचैनी का आलम है. पांच दिनों से बारिश नहीं हो रही है. गुरुवार को बारिश हुई लेकिन छिटपुट तौर पर. गुरुवार को पटना का अधिकतम तापमान 36.8 जबकि न्यूनतम तापमान 28.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया. अधिकतम तापमान सामान्य से चार डिग्री जबकि न्यूनतम तापमान दो डिग्री अधिक रहा. कभी- कभी वार्म नाइट जैसा भी अनुभव किया गया. इस वजह से दिन ही नहीं रात में भी बेचैनी महसूस की जा रही है. बारिश के बाद जमे पानी का इवोपरेशन होने, तापमान के बढ़ने और हवा में नमी के उतार-चढ़ाव -ये सभी मिलकर उमस की स्थिति पैदा करते हैं. जब तापमान बढ़ता है और बारिश नहीं होती लेकिन देर शाम तक गिरावट नहीं होती है तो उमस और गर्मी महसूस किया जाता है.

उमस होने की मूल वजह

उमस महसूस होने की सबसे बड़ी वजह अधिकतम और न्यूनतम तापमान में अंतर कम होना है. गुरुवार को पटना का अधिकतम और न्यूनतम तापमान के बीच करीब आठ डिग्री का अंतर रहा. आम तौर पर जब इन दोनों में दस डिग्री से कम का अंतर हो जाता है तो उमस ज्यादा महसूस होता है. दूसरी बड़ी वजह है बादल छाये रहना लेकिन बारिश नहीं होना. तीन-चार दिनों से पटना के आसमान पर बादल दिख रहे है लेकिन बारिश नहीं हो रही है. ये बादल वातावरण को गर्म कर देता है.

वेस्टर्न डिस्टर्बेस कमजोर

एक्सपर्ट ने बताया कि बीते पांच दिनों में पटना में अच्छी बारिश हुई लेकिन अब वेस्टर्न डिस्टर्बेस के इस इलाके में कमजोर पड़ने के कारण यहां बारिश के लिए माकूल स्थिति नहीं बन रही है. इसके अलावा वातावरण में हवा की गति भी दो दिनों से मंद है. इस वजह से तापमान का पूरा असर महसूस किया जा रहा है. उधर, शाम के समय भी तापमान 30 डिग्री से अधिक रिकार्ड किया जा रहा है. खास तौर पर बुधवार को रात का तापमान असामान्य महसूस किया गया. बताया गया कि उमस और गर्मी से पटनाइट्स की परेशानी बढ़ गई है.

अधिकतम और न्यूनतम तापमान में अंतर जितना कम होगा उमस उतना ही अधिक महसूस होगा. बीते दो दिनों से ऐसी ही स्थिति है.

-डॉ प्रधान पार्थ सारथी, मौसम विशेषज्ञ