-शोपीस में हुक्का रखते हैं दुकानदार, हर एज ग्रुप के लोग कर रहे खरीदारी

-नशे के लिए हो रहा हुक्का का यूज, जिम्मेदार बने हुए हैं अंजान

बरेली: दैनिक जागरण आईनेक्स्ट ने हुक्का बार की आड़ में युवाओं को नशे में धकेलने का खुलासा किया था जिसके बाद युवाओं को नशा परोसने वाले रेस्टोरेंट, कैफे और होटल पर कार्रवाई कर उन्हें सील कर दिया गया लेकिन नशे के आदी हो चुके यूथ अब खुद हुक्का खरीद अपनी जान से खिलवाड़ कर रहे हैं. थर्सडे को एक बार फिर डीजे आईनेक्स्ट की टीम ने रियलिटी चेक किया तो पाया शहर के कुछ दुकानदार बेखौफ होकर शोपीस में हुक्का रख युवाओं को महंगे दामों में बेच रहे हैं. नशे के आदी हो चुके युवाओं ने अपनी डोज की भरपाई के लिए नया सब्सीट्यूट निकाल लिया है. वह खुद हुक्का खरीद कर नशा कर रहे हैं.

हुक्का की बढ़ गई सेल

जो हुक्का पहले शहर में कोई पूछता नहीं था. एफएसडीएम की छापेमारी के बाद उसकी सेल में अचानक उछाल आ गया है. अगर एक महीने की बात करे तो एक दुकान से करीब 20-10 हुक्का बिक गए. बाजारों में 1000 से लेकर 3000 रुपए तक मिल रहा है. साथ ही फ्लेवर उसी रेट में फ्लेवर भी दे रहे हैं.

दिल्ली से आता फ्लेवर

हुक्का में यूज होने वाले फ्लेवर की सप्लाई दिल्ली, मुम्बई, चंडीगढ और रोहतक से मिडयेटर करते हैं, जिस पर ड्रग कंट्रोल विभाग और पुलिस प्रशासन का ध्यान ही नहीं है. वहीं हुक्का की बात करें तो शहर के कुतुबखाना, रहमानी मार्केट, बड़ा बाजार, शास्त्री मार्केट में खुलेआम हुक्का बेचा रहा है. यूथ इन्ही दुकानों से हुक्का लेने के बाद उसमें स्मैक और गांजे भरकर कश लगा धीरे-धीरे मौत के मुंह में जा रहे हैं.

ऑनलाइन भी हो रही शॉपिंग

हुक्का और फ्लेवर बैन होने के बावजूद ऑनलाइन मिल रहा है. ज्यादातर युवा पुलिस के डर से ऑनलाइन हुक्का और फ्लेवर की खरीदारी कर रहे हैं. क्योंकि ऑनलाइन खरीदने पर पुलिस उनको नहीं पकड़ सकती है. वहीं नाम न पब्लिश करने की शर्त पर एक दुकानदार ने बताया कि दुकानों पर 30 से 50 प्रकार के फ्लेवर है, जिसकी कीमत 150-300 रूपए के बीच है. जिसमें महंगे फ्लेवर लोग ऑनलाइन मंगवाते हैं. युवा दिल्ली की तर्ज पर अपने घरों पर भी हुक्के के साथ महफिल जमाते हैं.

पैसे के लालच में व्यापारी युवाओं को हुक्का बेच रहे हैं तो यह गलत है. उन्हें फ्लेवर हुक्का बेचने से मना किया जाएगा

रामकृष्ण शुक्ला, व्यापारी नेता

शहर को उड़ता पंजाब बनाने नहीं देंगे. इसके लिए व्यापारी खुद दुकानों पर चेकिंग करेंगे ताकि युवाओं को नशा न बेचा जाए.

विष्णु शुक्ला, व्यापारी

एफएसडीए और पुलिस की टीम दुकानों पर चेकिंग करेगी. कोई भी व्यापारी फ्लेवर्ड हुक्का बेचता हुए पकड़ा गया. उस पर फौरन कार्रवाई होगी.

अभिनंदन सिंह, एसपी सिटी