कानपुर। न्यूजीलैंड के आॅकलैंड में भारत बनाम न्यूजीलैंड के बीच खेला गया दूसरा टी-20 काफी चर्चा में है। आमतौर पर स्टेडियम में दर्शक अपनी टीम या खिलाड़ी को चियर करने के लिए पोस्टर लहराते हैं। मगर शुक्रवार को आॅकलैंड के र्इडन पार्क में 'मी टू' के पोस्टर लहराए। इन पोस्टर के निशाने पर न्यूजीलैंड क्रिकेट था जिन्होंने भारत के खिलाफ कीवी टीम में एक एेसे खिलाड़ी को मैदान में उतारा जो दुष्कर्म का आरोपी रह चुका है। इस खिलाड़ी का नाम है स्काॅट कुग्लेज। स्काॅट न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज हैं। उनके नेशनल क्रिकेट टीम में शामिल होते ही बवाल शुरु हो गया।

ind vs nz : जब पिच पर उतरा ये क्रिकेटर तो स्टेडियम में लहराए #metoo के पोस्टर

'वेक अप न्यूजीलैंड क्रिकेट, मीटू'

र्इडन पार्क में कीवी दर्शक मैच के दौरान 'वेक अप न्यूजीलैंड क्रिकेट, मीटू' लिखा पोस्टर लहरा रहे थे। हालांकि भारत के खिलाफ वेलिंग्टन में खेले गए पहले टी-20 में भी कुछ दर्शकों ने एेसे ही पोस्टर लिखे थे, मगर बाद में सिक्योरिटी गार्ड्स ने उन दर्शकों को बाहर कर दिया था। अब दूसरे मैच में भी यही काम दोहराया गया हालांकि इस बार इन दर्शकों को कोर्इ बाहर नहीं कर पाया। कीवी टीम के इन समर्थकों का निशाना सीधे न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड है जो दुष्कर्म के आरोपी को टीम में शामिल कर रही है।

ind vs nz : जब पिच पर उतरा ये क्रिकेटर तो स्टेडियम में लहराए #metoo के पोस्टर

चार साल पहले चला था केस

न्यूजीलैंड की एक वेबसाइट स्टफ के मुताबिक, 27 साल के तेज गेंदबाज स्काॅट पर 2015 में एक लड़की के साथ दुष्कर्म करने का आरोप लगा था। पीड़िता का कहना था कि स्काॅट ने उन्हें हैमिटन के र्इस्ट फ्लैट में बुलाकर उनके साथ गलत हरकत की। खैर मामला कोर्ट पहुंचा। 2016 में जजों के बीच आपसी सहमित नहीं बन पार्इ जिसके बाद केस बीच में ही लटक गया था। मगर 2017 में इस केस की फिर सुनवार्इ हुर्इ जहां कोर्ट ने स्काॅट को निर्दोष करार दे दिया। उस वक्त इस फैसले का कुछ लोगों ने विरोध किया था क्योंकि स्काॅट ने कबूला था कि, लड़की ने उन्हें सिर्फ दो बार 'ना' बोला था, उससे ज्यादा बार नहीं। यही नहीं स्काॅट ने अगले दिन लड़की से माफी भी मांगी थी।

टीम में वापसी पर फैंस नाराज

कोर्ट से बरी होने के बाद स्काॅट की न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम में फिर वापसी हुर्इ आैर भारत के खिलाफ मौजूदा टी-20 सीरीज में वह कीवी टीम में शामिल है। जिसको लेकर दर्शकों में काफी आक्रोश है। हालांकि न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड की तरफ से इस मामले पर कोर्इ आधिकारिक बयान नहीं आया है।

भारत-न्यूजीलैंड मैच में हुआ बवाल, बल्लेबाज को जबरदस्ती दिया गया आउट

चौके-छक्के के दम पर टी-20 के बादशाह बने रोहित शर्मा, 12 साल में मात्र इतने रन लिए दौड़कर

Cricket News inextlive from Cricket News Desk