श्रीनगर (पीटीआई)। जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने गुरुवार को तीन राजनेताओं यावर मीर, नूर मोहम्मद और शोयब लोन को रिहा कर दिया है। ये तीनों राजनेता 5 अगस्त को केंद्र द्वारा यहां से आर्टिकल 370 निरस्त करने के बाद से नजरबंद थे। अधिकारियों ने बताया कि यावर मीर, नूर मोहम्मद और शोयब लोन को विभिन्न आधारों पर रिहा किया गया।

रफियाबाद विधानसभा सीट से पीडीपी के पूर्व विधायक

इनमें यावर मीर रफियाबाद विधानसभा सीट से पीडीपी के पूर्व विधायक हैं।शोयब लोन उत्तरी कश्मीर से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़े थे लेकिन असफल रहे। बाद में पार्टी के जिला अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। वहीं नूर मोहम्मद एक नेशनल कॉन्फ्रेंस कार्यकर्ता हैं। यह श्रीनगर शहर के उग्रवाद प्रभावित बटमालू क्षेत्र में पार्टी फेस बने हैं।

एक हजार से भी अधिक लोग लिए गए थे हिरासत में  

वहीं इससे पहले 21 सितंबर को स्वास्थ्य के आधार पर पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के इमरान अंसारी व सैयद अखून रिहा हुए थे।  बता दें कि राज्य की विशेष स्थिति को समाप्त करने के लिए केंद्र सरकार के 5 अगस्त के कदम के बाद नेताओं, अलगाववादियों, कार्यकर्ताओं और वकीलों सहित एक हजार से भी अधिक लोगों को हिरासत में लिया गया था।

फारूक अब्दुल्ला, उमर और महबूबा मुफ्ती भी शामिल

हिरासत में लिए गए लोगों में पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती भी शामिल हैं। वहीं नजरबंद हुए 250 से अधिक लोगों को जम्मू-कश्मीर के बाहर जेल भेजा गया। फारूक अब्दुल्ला को बाद में जन सुरक्षा अधिनियम के तहत व अन्य राजनेता आपराधिक प्रक्रिया संहिता के डिफरेंट सेक्सन के तहत हिरासत में लिए गए थे।

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk

inext-banner
inext-banner