-12 फरवरी से शुरू होगा सेशन-ट्रायल, पेश होंगे गवाह

patna@inext.co.in

MUZAFFARPUR/PATNA: पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड में आरोपित शहाबुद्दीन और अन्य 6 आरोपितों के विरुद्ध एडीजे-11 सह माननीयों (एमपी- एमएलए) के विशेष कोर्ट में मंगलवार को आरोप तय किए गए. सभी के विरुद्ध सीबीआई पहले ही आरोप पत्र दाखिल कर चुकी थी. आरोप तय होने केबाद इस मामले में सत्र-विचारण की प्रक्रिया शुरू होने का रास्ता साफ हो गया. आरोप तय किए जाने से पहले विशेष कोर्ट के न्यायाधीश मनोज कुमार ने शहाबुद्दीन सहित सभी आरोपितों को आरोपों के सारांश पढ़ कर सुनाया. आरोपितों ने आरोपों से इनकार कर सेशन-ट्रायल का सामना करने की सहमति जताई.

वीडियो कान्फ्रेंसिंग से पेशी

विशेष कोर्ट ने अगली सुनवाई तारीख 12 फरवरी मुकर्रर की है. उसी दिन से सेशन-ट्रायल शुरू होगा. अभियोजन पक्ष की ओर से आरोपों के समर्थन में विशेष कोर्ट में गवाह व अन्य साक्ष्य पेश किए जाएंगे. न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल में बंद शहाबुद्दीन व भागलपुर जेल में बंद अजहरूद्दीन बेग उर्फ लड्डन मियां की वीडियो कान्फ्रेंसिंग से एवं मुजफ्फरपुर जेल में बंद विजय गुप्ता, रोहित कुमार सोनी, राजेश कुमार, रीशु कुमार जायसवाल, सोनू कुमार गुप्ता व सोनू कुमार सोनी को कोर्ट में लाकर पेश किया गया.

सीबीआई ने दाखिल की थी चार्जशीट

पूर्व सांसद सहित सात आरोपितों के विरुद्ध सीबीआई ने कोर्ट में पिछले साल 21 अगस्त को चार्जशीट दाखिल की थी. विशेष सीबीआई कोर्ट ने चार्जशीट को संज्ञान में लेकर सेशन ट्रायल चलाने के लिए जिला जज के कोर्ट में भेजा था. इसकी सुनवाई के लिए एडीजे-9 के कोर्ट में भेजा था. आरोपितों के खिलाफ आरोप तय किए जाने की प्रक्रिया चल रही थी. इसी बीच इसे पटना में माननीयों के मामले की सुनवाई के लिए गठित विशेष न्यायालय में सुनवाई के लिए भेजा गया था. इसका शहाबुद्दीन व अन्य आरोपितों की ओर से विरोध किया गया था.

क्या है पूरा मामला

13 मई 2016 की शाम सिवान में पत्रकार राजदेव रंजन की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. पुलिस के बाद इस मामले की जांच सीबीआइ को सौंपी गई थी. सीबीआइ ने पूर्व सांसद शहाबुद्दीन सहित अन्य को आरोपित बनाते हुए चार्जशीट दाखिल की.