केजरीवाल सहित कीर्ति आजाद पर मानहानि के मुकदमे की तैयारी में जेटली

2015-12-21T09:36:00Z

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि डीडीसीए में भ्रष्टाचार के झूठे आरोपों के लिए वे दिल्ली के मुख्यामंत्री अरविंद केजरीवाल सहित पूर्व क्रिकेटर और भाजपा नेता कीर्ति आजाद कुमार विश्वास संजय सिंह आशुतोष के खिलाफ मानहानि का मामला दर्ज करायेंगे। उम्मीद है कि पटियाला हाउस और दिल्ली हाई कोर्ट में आज दर्ज हो सकते हैं ये मामले। वहीं अरुण के सर्मथन में क्रिकेटर विराट कोहली उतर आये हैं।

गुस्से में जेटली
दिल्ली में राजनीतिक तापमान आने वाले दिनों में और बढऩे वाला है। अरविंद केजरीवाल द्वारा भ्रष्टाचार का आरोप लगाए जाने से नाराज वित्त मंत्री अरुण जेटली ने दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप के अन्य नेताओं को कोर्ट में घसीटने का फैसला किया है। इतना ही नहीं जेटली ने अपने खिलाफ मुखर पार्टी सांसद कीर्ति आजाद से भी कानूनी तौर पर निबटने की तैयारी कर ली है। वित्त मंत्री अपने विरोधियों के खिलाफ सोमवार को मानहानि का दीवानी और आपराधिक मामला दायर करने जा रहे हैं। सरकार में शामिल मंत्रियों और सत्तारूढ़ पार्टी के नेताओं पर भ्रष्टाचार के आरोप अक्सर लगते रहे हैं। लेकिन यह एक अनूठी घटना होगी, जब केंद्र सरकार के एक वरिष्ठ मंत्री भ्रष्टाचार का आरोप लगने के बाद मानहानि का मामला दर्ज कराएंगे। इस बीच, भारतीय टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली सहित कई पूर्व क्रिकेटर जेटली के समर्थन में उतर आए हैं।
 
आज दर्ज हो सकता है मुकदमा
सूत्रों के मुताबिक, जेटली सोमवार को केजरीवाल, कुमार विश्वास, आशुतोष, राघव चड्ढा, संजय सिंह और दीपक वाजपेयी के साथ-साथ कीर्ति आजाद के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाएंगे। इन नेताओं ने सार्वजनिक तौर पर वित्त मंत्री तथा उनके परिवार पर ‘दिल्ली और जिला क्रिकेट एसोसिएशन’ में भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है। जेटली यह मामला व्यक्तिगत तौर पर दायर करेंगे। दिल्ली उच्च न्यायालय में मानहानि का दीवानी मामला दायर किया जाएगा, जबकि पटियाला हाउस में आपराधिक मामले दर्ज किए जाएंगे।
आप का हमला तेज फिर मांगा जेटली का इस्तीफा
वहीं दूसरी ओर आम आदमी पार्टी ने भी जेटली पर अपना हमला तेज कर दिया है। केजरीवाल सरकार ने डीडीसीए में कथित हेराफेरी की जांच के लिए पूर्व सॉलिसिटर जनरल गोपाल सुब्रह्मण्यम की अध्यक्षता में जांच आयोग बनाने की घोषणा कर दी है। इसके अलावा कीर्ति आजाद की प्रेस वार्ता के बाद आप ने जेटली की तुलना राष्ट्रमंडल खेल घोटाले के कर्ता-धर्ता सुरेश कलमाड़ी से करनी शुरू कर दी है। आप की तरफ से जेटली से इस्तीफे की मांग की गई है। ऐसा नहीं करने पर आप ने राष्ट्रव्यापी विरोध प्रदर्शन करने की धमकी भी दी है। आप ने कहा है कि अब यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निर्भर करता है कि वह ऐसे व्यक्ति को अपनी कैबिनेट में स्वीकार करते हैैं या नहीं। आप नेता आशुतोष ने कहा है कि आजाद के खुलासे के बाद जेटली के खिलाफ जल्द-से-जल्द एफआइआर दर्ज होनी चाहिए और पूरी जांच होनी चाहिए। देर रात संजय सिंह ने ट्वीट कर कहा कि सोमवार को वह जेटली के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराएंगे।

inextlive from India News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.