पेपर नाइफ से की 'प्रेम' की हत्या

Updated Date: Sat, 23 Jan 2021 05:40 PM (IST)

- प्रेम प्रसंग में हत्या करने वाले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

- आरोपी के गांव में अपनी नानी के यहां रहती थी अंशु

- बिहारशरीफ से आकर दिया हत्या की वारदात को अंजाम

PATNA (22 Jan)

: जक्कनपुर थाना क्षेत्र के जयप्रकाश नगर में बीते गुरुवार को हुई मैट्रिक की छात्रा अंशु की हत्या के मामले में पुलिस ने 24 घंटे अंदर आरोपी संदीप कुमार को बिहारशरीफ से गिरफ्तार कर लिया। आरोपी नालंदा जिले के थरथरी थाना क्षेत्र के सुमका गांव के सुनिल कुमार साव का बेटा है। पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल किए पेपर नाइफ को बरामद कर लिया है। सिटी एसपी ईस्ट जितेंद्र कुमार ने बताया कि पुलिस ने बताया कि हत्या प्रेम प्रसंग में की गई। उन्होंने बताया कि सुमका गांव में अंशु का ननिहाल है। आरोपी का घर भी उसके नानी के घर के पास है। वहां रहने के दौरान ही दोनों के बीच प्यार हुआ।

गठित हुई थी एसआईटी

हत्या की गंभीरता को देखते हुए एसएसपी ने एसआईटी गठित की। जिसका नेतृत्व सिटी एसपी ईस्ट ने जितेंद्र कुमार कर रहे थे। टीम में एसडीपीओ सदर संजीत सिंह, जक्कनपुर थानाध्यक्ष मुकेश वर्मा सहित कई पुलिसकर्मियों को शामिल किया। पुलिस ने सीसीटीवी और अंशु के परिजनों से पूछताछ के आधार पर संदीप की पहचान की। पुलिस ने छापेमारी कर आरोपी संदीप को बिहारशरीफ से गिरफ्तार किया। पूछताछ के दौरान आरोपी ने हत्या की बात स्वीकार की। उसकी निशानदेही पर पुलिस ने घटना में इस्तेमाल प्रयुक्त चाकू को तीन पुलवा के पास रेल ट्रैक से बरामद किया।

प्रेम प्रसंग में हुई हत्या

सिटी एसपी ईस्ट जितेंद्र कुमार ने बताया कि आरोपी संदीप कुमार ग्रेजुएशन पार्ट वन का स्टूडेंट है। जबकि अंशु इसी साल मैट्रिक की परीक्षा देने वाली थी। उन्होंने बताया कि हत्या का मामला प्रेम प्रसंग जुड़ा है। पूछताछ के दौरान आरोपी ने पुलिस को बताया कि अंशु की नानी के घर बगल में उसका घर है। पहले वह वहीं रहती थी। अंशु से उसका दो साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था।

शादी से इनकार

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, संदीप ने अंशु से शादी की बात घरवाले को बताई थी। स्वजातीय नहीं होने की वजह से दोनों के परिवार वाले शादी को लेकर राजी नहीं थे। इसके बाद अंशु को पटना मां-बाप के पास भेज दिया गया। वहीं, अंशु को उसकी बुआ के पास बिहारशरीफ भेजा गया। संदीप बुआ के घर के बगल में किराए पर रूम लेकर पढ़ाई करने लगा। इसके बावजूद संदीप का अंशु से मोबाइल पर बातचीत होती थी।

मारने की देता था धमकी

आरोपी संदीप मोबाइल पर अंशु को जान से मारने की अक्सर धमकी देता था। वह कहता था कि जब तुम्हारी शादी मुझसे नहीं होगी तो तुम किसी की नहीं रहोगी। मैं तुम्हें जाने से मार दूंगा। पुलिस ने बताया कि अंशु धमकी की बात को गंभीरता से नहीं लेती थी। बीते 19 जनवरी को मोबाइल पर बातचीत के दौरान अंशु ने बताया कि मेरी मां 21 जनवरी को घर पर नहीं रहेगी। इसके संदीप बिहारशरीफ से पटना स्थित अंशु के घर आ धमका। वह सीधे अंशु के कमरे में चला गया। जब अंशु ने उससे पूछा कि क्यों आए हो तब उसने कहा कि मैं तुम्हे जान से मारने आया हूं। इसके उसने चाकू निकाला और अंशु के गले पर दो वार कर दिया। जिससे उसकी मौत मौके पर ही हो गई।

एक माह पहले खरीदा था चाकू

पुलिस ने बताया कि आरोपी संदीप हत्या की साजिश पहले से ही रच रहा था। पूछताछ के दौरान उसने बताया कि हत्या में इस्तेमाल किया गया पेपर नाइफ उसने एक महीना पहले नालंदा के चंडी से 20 रुपए में खरीदा था। वह अंशु को मारने के लिए मौके की तलाश में था।

भागने की फिराक में था

पुलिस ने बताया कि हत्या करने बाद संदीप कुमार बिहारशरीफ में अपने किराए के घर में चला गया। हत्या की बात उसने किसी को नहीं बताई। पुलिस सीसीटीवी और टेक्निकल जांच के जरिए संदीप की पहचान की। मोबाइल सर्विलांस से जरिए उसका पता लगाया गया। गुरुवार देर रात ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने बताया कि वह दूसरी जगह भागने की फिराक में था। इसके लिए वह योजना बना रहा तभी छापेमारी कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.